New Delhi Latest News

जीएसटी के तहत गोपनीयता को बनाए रखने के लिए वितमंत्री से आग्रह किया

जीएसटी के तहत गोपनीयता को बनाए रखने के लिए वितमंत्री से आग्रह किया

नई दिल्ली। ऑल इंडिया टैक्स एडवोकेट फोरम (एआईटीएएफ) ने वित्त मंत्री अरुण जेटली से गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) के नए कर शासन के तहत कर अधिकारियों के साथ किए गए विवरणों की गोपनीयता सुनिश्चित करने के लिए आग्रह किया है।

फोरम के अध्यक्ष एम के गांधी ने जारी एक बयान में कहा जीएसटी नियमों को अन्तिम रुप देते हुए नए कर प्रणाली के तहत कर के रिकॉर्ड , खातों, रिटर्न और बयान जैसे व्यापारियों द्वारा प्रदान की गई जानकारी को पर्याप्त सुरक्षित सुनिश्चित किया जाना चाहिए और इस तरह की जानकारी के अनाधिकृत प्रकटीकरण या लीकेज के लिए दंड प्रावधान किया जाना चाहिए।

विख्यात कर सलाहकार श्री गांधी ने कहा कि टैक्स अथॉरिटी को व्यापारी द्वारा प्रस्तुत जानकारी के संरक्षण के लिए इस तरह के प्रावधान पहले से ही डी वैट अधिनियम में मौजूद हैं।

दिल्ली वैल्यू एडेड टैक्स एक्ट के तहत सभी विवरण, रिटर्न, एकाउन्टस दस्तावेज आदि इस अधिनियम के अनुसार गोपनीय माने जाते है, श्री गांधी ने कहा

Nirbhaya gangrape case 2012: A look at what all has happened over the years

In 2012, the nation was shaken up by the news of a dastardly gangrape of a 23-year-old in a moving bus in the national capital. Late on a Sunday night on December 16, 2012, the victim along with her male companion were returning from a screening of the film Life of Pi in Saket. Both of them were waiting to hail an auto rickshaw for a ride back home at around 9.30 pm. Around this time, an off-duty charter bus driven by people not driving for commercial reasons passed them and offered to give them a ride to Dwarka from Munirka. Soon, the victim’s companion noticed the route taken by the driver was different than normal and the doors of the bus had been tightly shut.