इलाहाबादः कुंभ की तैयारी के लिए हटाई गई ने हरू की प्रतिमा।

इलाहाबादः कुंभ की तैयारी के लिए हटाई गई नेहरू की प्रतिमा।

इलाहाबादः🇮🇳 इलाहाबाद में बालसन चौराहे पर लगी हुई देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की मूर्ति को क्रेन से हटाए जाने से नाराज कांग्रेस कार्यकर्ता लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. मूर्ति हटाए जाने के मामले पर प्रशासन का कहना है कि इलाहाबाद में कुंभ मेले की तैयारियों में किए जा रहे निर्माण कार्यों के चलते ही मूर्ति को हटाया गया है जबकि कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आरोप है कि कुंभ मेले के लिए निर्माण कार्यों की आड़ में योगी सरकार कांग्रेस के प्रति बदले की भावना और भेदभाव के साथ काम कर रही है. कार्यकर्ताओं ने यह भी आरोप गया कि उसी के पास में बीजेपी सांसद का बंगला है जहां पंडित दिनदयाल की मूर्ति लगी है लेकिन उनकी मूर्ति से किसी प्रकार की छेड़छाड़ नहीं की गई. प्रशासन द्वारा पंडित जवाहर लाल नेहरू की मूर्ति को क्रेन द्वारा हटाए जाने को कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्टी और नेहरू का अपमान करने वाला बताया है. कांग्रेस की तरफ से यह भी आरोप लगाया जा रहा है कि आनंद भवन के बाहर स्थापित पंडित नेहरू की मूर्ति को बहुत अपमानजनक तरीके से हटाया गया है जो दिखाता है कि ये बीजेपी साजिश है कांग्रेस की विचार धारा को खत्म करने की जिसका हम विरोध करते हैं.

अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी है कि प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की मूर्ति को पूरे सम्मान के साथ बालसन चौराहे से हटाकर पास में स्थित एक पार्क में स्थापित किया गया है. अधिकारियों ने बताया कि कुंभ मेले के लिए हो रही तैयारियों के बीच बालसन चौराहे के सौंदर्यीकरण के चलते मूर्ति को हटाया जाना जरूरी था. लेकिन अधिकारियों ने तीन में से सिर्फ एक वो भी कांग्रेस के नेता की मूर्ति को ही हटाए जाने के सवाल पर चुप्पी साध ली. बता दें कि इलाहाबाद में कुंभ मेले को लेकर चल रही तैयारियां युद्ध स्तर पर जारी हैं जिसके चलते पूरे इलाहाबाद में विकास और सौंदर्यीकरण का काम किया जा रहा है. ताकि कुंभ में आने वाले भक्त और महमानों के सामने किसी प्रकार की समस्या न आ सके. और इसी के चलते बालसन चौराहे पर लगी पंडित नेहरू की मूर्ति हटाई गई है जिसका कांग्रेस लगातार विरोध कर रही है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *