New Delhi Latest News

Why Arvind Kejriwal-led AAP govt’s move to slash bus fares by 70% is senseless

The Arvind Kejriwal government’s new year gift to the citizen of Delhi in the form of slashing bus fares had to be postponed due to issues related to L-G office and departments concerned. Now it is evident that people taking public transport in Delhi will have to wait for some more time to travel in DTC and cluster buses on cut-fare tickets. The AAP government had planned to reduce monthly bus pass rates from Rs 800 to Rs 250 for non-AC buses, and from Rs 1,000 to Rs 250 for AC buses – a 70% cut. There will be a flat fare of Rs 5 in non-AC DTC and cluster buses, while it will be Rs 10 in air-conditioned buses for a month on trial basis.

PM Narendra Modi replaces Mahatma Gandhi in Khadi Udyog’s calendars and diaries

Mahatma Gandhi on Thursday was replaced on the covers of the 2017 wall calendars and table diaries by Prime Minister Narendra Modi. The calendars and diaries published by the Khadi Village Industries commission saw PM Modi’s pictures, which comes as a major surprise to many. According to IANS, most of the employees were shocked to see the photo of the PM in the same iconic charkha pose as the Father of the nation. Reports suggest that the employees at the KVIc who were shocked at the development observed a silent protest at the Vile Parle headquarters during the lunch hours on Thursday.

Amritsar AA GAYA PLAY – free entry

*आज सायं 6:30 बजे*
भीष्म साहनी की कहानियो पर आधारित नाटक *अमृतसर आ गया*
मुक्तधारा आडिटोरियम, गोल मार्केट,नई दिल्ली।
प्रवेश निशुल्क।
सहनिर्देशक- शिल्पी मारवाह

https://t.co/WiI8dZbaS7

FILM ACTOR OMPURI DIED

फिल्म अभिनेता ओमपुरी का दिल का दौरा पड़ने से निधन

66 साल के थे ओमपुरी , फिल्म जगत में शोक की लहर ओम पुरी
ओम पुरी हिन्दी फिल्मों के एक प्रसिद्ध अभिनेता हैं। इनका जन्म १८ अक्टूबर 1950 में अम्बाला नगर में हुआ। इन्होने ब्रिटिश तथा अमेरिकी सिनेमा में भी योगदान किया है। ये पद्मश्री पुरस्कार विजेता भी हैं, जोकि भारत के नागरिक पुरस्कारों के पदानुक्रम में चौथा पुरस्कार है।

ओम पुरी का जन्म १८ अक्टूबर 1950 में हरियाणा के अम्बाला शहर में हुआ।उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने ननिहाल पंजाब के पटियाला से पूरी की। 1976 में पुणे फिल्म संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद ओमपुरी ने लगभग डेढ़ वर्ष तक एक स्टूडियो में अभिनय की शिक्षा दी। बाद में ओमपुरी ने अपने निजी थिएटर ग्रुप "मजमा" की स्थापना की।
ओम पुरी ने अपने फ़िल्मी सफर की शुरुआत मराठी नाटक पर आधारित फिल्म ‘घासीराम कोतवाल’ से की थी।वर्ष 1980 में रिलीज फिल्म "आक्रोश" ओम पुरी के सिने करियर की पहली हिट फिल्म साबित हुई।

LAKHIMPUR VIKAS SEMINAR

लखीमपुर संस्कृति, प्राचीन धरोहर, शिक्षा, रोजगार विकास विषयक संगोष्ठी दिल्ली में 7 जनवरी को क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े जिले की संस्कृति व सांस्कृतिक धरोहरों को अन्तर्राष्ट्रीय पटल पर पहचान दिलाने को लेकर राष्ट्रीय राजधानी परिक्षेत्र में रह रहे लखीमपुर के युवाओं ने दिल्ली में आगामी 7 जनवरी को एक संगोष्ठी का आयोजन किया है।जिले के विकास के मंसूबे से आयोजित हो रही उक्त संगोष्ठी में प्रमुख रूप से समाजवादी पार्टी के सांसद रवि वर्मा, भाजपा सांसद अजय मिश्रा, पूर्व राज्यसभा सांसद जुगुल किशोर, स्किल इंडिया के डायरेक्टर जयंत कृष्णा, जे एन यू के छात्र संघ अध्यक्ष मोहित पाण्डेय, जिला अधिकारी आकाश दीप आदि को आमंत्रित किया गया है।उक्त जानकारी नोएडा से लखीमपुर निवासी विवेक श्रीवास्तव ने एक औपचारिक बातचीत के दौरान दी।
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से लगभग सवा सौ किलोमीटर दूर 3680 वर्गकिलोमीटर में हरियाली की प्राकृतिक छठा बिखेरता यह जिला लखीमपुर ऐतिहासिक रूप से सूबे का सबसे महत्वपूर्ण जिला मन जाता है।यहाँ की माटी ने आजादी से अब तक देशभक्ति में योगदान दे तमाम उदहारण दिए हैं।तराई तप भूमि से जाना जाने वाला यह जिला प्राकृतिक व सांस्कृतिक धरोहरों को आज भी सँजोये हुए है।इसके साथ साथ संगोष्ठी में शिक्षा, रोजगार जैसे विषयों को भी प्रमुखता दी जाएगी।
संगोष्ठी को सफल बनाने को लेकर लखीमपुर – दिल्ली युवाओं में प्रमुख रूप से विवेक श्रीवास्तव, हिमांशु तिवारी, मंगेश त्रिवेदी , अंकित शुक्ला, गगन मेहरोत्रा, अनुराग पाण्डेय, शेखर शुक्ला, विराग शुक्ला, रोहित बधावन आदि गत पखवारे से प्रयासरत है।लखीमपुर निवासी श्री विवेक ने दिल्ली क्षेत्र में रह रहे लखीमपुर निवासियों से अपील की है कि संगोष्ठी में बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले।

LAKHIMPUR SANSKRITI SEMINAR

लखीमपुर संस्कृति, प्राचीन धरोहर, शिक्षा, रोजगार विकास विषयक संगोष्ठी दिल्ली में 7 जनवरी को