Delhi becomes deadly gas chamber .. schools Closed

दिल्ली में प्रदूषण से बिगड़े हालात,
रविवार तक सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे!

नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली और आस-पास के इलाकों में दो दिन से घनी धुंध ने प्रदूषण को खतरनाक स्तर पर पहुंचा दिया है. मंगलवार को जहां घने धुंध के कारण विजिबिलिटी 50 मीटर थी, वह बुधवार को सुबह 10 मीटर से भी कम हो गई. घने धुंध और प्रदूषण के चलते दिल्ली एनसीआर के सभी स्कूलों को रविवार तक बंद रखने का निर्देश दिया गया है. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने कहा, "दिल्ली में हवा की स्थिति बिगड़ रही है. ऐसे में बच्चों के स्वास्थ्य से समझौता नहीं किया जा सकता. रविवार तक दिल्ली के सभी स्कूलों के (सरकारी और प्राइवेट) सभी कलास को बंद रखने का निर्देश दिया गया है."

*9 नवंबर तक छाई रहेगी धुंध*
मौसम विभाग के एडीजी डॉ. एम महापात्रा के अनुसार, उम्मीद है कि 9 तारीख से धुंध कमजोर पड़ जाएगी और मौजूदा स्थिति से मुक्ति मिलेगी. 10 नवंबर से उत्तर भारत की तरफ उत्तरी हवाएं चलेंगी जिससे तापमान में गिरावट की संभावना है. मंगलवार को हल्की धुंध को देखते हुए सिर्फ एक दिन के लिए पांचवीं कक्षा तक के स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया गया था. लेकिन बुधवार को धुंध और प्रदूषण की गंभीरता को देखते हुए स्कूलों को रविवार तक बंद रखने का आदेश जारी किया गया है. इसके अलावा स्कूलों को बच्चों के स्कूल के बाहर की गतिविधियों पर भी रोक लगाने का आदेश दिया गया था. SC द्वारा नियुक्त एक समिति ने प्रदूषण की गंभीरता को देखते हुए और प्रदूषण पर नियंत्रण पाने के उद्देश्य से दिल्ली मेट्रो को किराया घटाने और अगले दो दिनों के लिए फेरों की संख्या बढ़ाने के लिए भी कहा है. साथ ही वाहनों की पार्किंग शुल्क चार गुना करने का निर्देश दिया है. इसके अलावा पर्यावरण प्रदूषण रोकथाम व नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) ने दिल्ली के लिए सामान नहीं लाने वाले ट्रकों के प्रवेश पर रोक लगा दी है. ईपीसीए ने साथ ही दिल्ली सरकार से पिछले वर्ष की तरह *सम-विषम* यातायात योजना को फिर से लागू करने के लिए तैयार रहने को भी कहा है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *