Daily Archive: August 18, 2018

Latest and Top Ten National and International News 18 August 2018.

Today’s Fuel rate: Del: P 77.20 D 68. Kol: P 80.14 D 71.70 Mum: P 84.63 D 73.10 Chn: P 80.20, D 72.74

Why do we Elect? 30% MPs put poor Lok Sabha show, 25 MPs not participated in debate/no Question

WHO announces important changes to multi drug resistant TB treatment – minimize injectibles

Rise in extreme weather events in India raise concerns over climate change impact, frequent heavy rains

Kerala: Water, vector-borne disease outbreak looms, killed 324 people/displaced 3Lacs across the state

Kerala rains: Mindless trolls with their misogynistic, communal views are only adding to state’s woes

As many as 868 people have lost their lives, due to rains, floods and landslides in 7 states across India

Farewell, AB Vajpayee. Iconic Leader Cremated With State Honours on banks of river Yamuna

RBI: Bank credit to MSMEs fell 4.3% YOY Dec 2016, GST dented exports, demonetization led to decline

RBI: In last 3yrs More Indians (44%) going abroad for studies, but foreign students(14%) aren’t coming in

RBI Governor: Operators must pay attention to cyber security, reasonableness of charges

Central Statistical Office: India’s economy actually touched magical 10% mark in 2006-07(Official GDP)

Record! Whopping Income Tax collection – 10.03L Cr during 2017-18, 6.92Cr IT returns filed

Delhi to Chandigarh in 3 hours! with new Tejas Express train that will offer aircraft-like luxury/comforts!

Study: Morning snack of almonds may reduce total cholesterol, improve body’s ability to regulate sugar

Smoking parents up kids’ lung disease risk related deaths due to chronic obstructive pulmonary disease

Air India pilots threaten to stop working if their flying allowance dues aren’t paid, Board meets

Study: From Oman to NCR towns, 74% of Delhi’s pollution comes from outside

Psst, be careful someone may be secretly recording our telephonic conversation, no mechanism to warn

States set to introduce helicopter services, Under UDAN 76 routes awarded travel to/from counted as 2

PIL in Supreme Court challenges DVC exporting concessional coal power to Bangladesh when it is scarce

India among top 5 markets for mobile gaming due to proliferation of smartphones/cheaper data plans

National Anti-profiteering Authority NAA plans to knock on factory gates to enforce GST rate cuts

CSIR lab develops potential clot buster drug for stroke, licence for clinical trials, 1.3MN deaths by Stroke

Closing bell: Nifty close at record 11,470- Sensex surges 284 pts powered to 37,947 by banking stocks

Controversial idea to encourage childbirth! No children? Pay a tax, Chinese academics suggest

US, China to resume talks to resolve stand-off over trade, but breakthrough chances bleak for time being

US: Judge in Paul Manafort trial says he has been threatened, now under Marshal protection

US Federal appeals court ruled Trump to immediately implement an Obama-era chemical safety rule

Pentagon: China ‘Rapidly’ Expanding Bomber Training for Strikes on US Targets & its allies

6.0 magnitude earthquake rattles southern Costa Rica, Panama; capable of causing severe damage

Elon Musk says he’s cracking under stress of Tesla job, shares plunge 6%, If you do better take Reins

Asia/Pacific Group urges Pakistan to curb terror financing, money laundering to get off FATF ‘grey list’

Today’s Word – *Ufology* – Study of alien spacecraft.

पिछले 10 दिनों के अंदर 7 हस्तियों ने इस दुनिय ा को अलविदा दिया।

*अटल बिहारी वाजपेयी*
16 अगस्त को भारत ने एक अनमोल रत्न खो दिया। अटल बिहारी वाजपेयी, जिन्होंने बीजेपी को शून्य से शिखर पर पहुंचा दिया था, उन्होंने 16 अगस्त को शाम 5 बजकर 5 मिनट पर अंतिम सांस ली। अटल बिहारी वाजपेयी 1991, 1996, 1998, 1999 और 2004 में लखनऊ से लोकसभा सदस्य चुने गए थे। बता दें कि अटल 1999 से 2004 तक बतौर प्रधानमंत्री अपना कार्यकाल पूर्ण करने वाले पहले और अभी तक एकमात्र गैर-कांग्रेसी नेता हैं। 25 दिसंबर, 1924 में जन्मे वाजपेयी ने भारत छोड़ो आंदोलन के जरिए 1942 में भारतीय राजनीति में कदम रखा था। देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने गुरुवार 16 अगस्त को अंतिम सांस ली। वह दिल्ली के खिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में भर्ती थे। उनकी स्थिति काफी नाजुक बनी हुई थी। 5 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। इस ख़बर को सुनकर मानो देश भर की धड़कन थम गई हो।

*आरके धवन*
इंदिरा गांधी के निजी सचिव रहे और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता 81 वर्षीय आरके धवन का 6 अगस्‍त को निधन हो गया। पंजाब यूनिवर्सिटी से स्नातक आरके धवन 1962 से 1984 तक इंदिरा के निजी सचिव रहे। वह 1990 में राज्यसभा के लिए चुने गए। इसके अलावा वह कई संसदीय समितियों के सदस्य रहे। वह राज्यसभा के सांसद भी रहे थे।

*वीएस नायपॉल*
साहित्य का नोबल पुरस्कार जीतने वाले भारतीय मूल के प्रसिद्ध लेखक वीएस नायपॉल का 12 अगस्त को निधन हो गया था। 85 वर्षीय नायपॉल ने लंदन स्थित अपने घर में आखिरी सांस ली। नायपॉल को 1971 में बुकर प्राइज और साल 2001 में साहित्य के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

*सोमनाथ चटर्जी*
लोकसभा के पूर्व अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी का 13 अगस्त को निधन हो गया। वह 89 साल के थे। राजनीतिक सफर की बात करे तो वह करीब करीब चार दशक तक सांसद रहे। उनके निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शोक प्रकट किया था।

*बलराम दास (बीडी) टंडन*
छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलराम दास (बीडी) टंडन का 14 अगस्त को रायपुर में निधन हो गया। 90 वर्षीय बीडी टंडन को मंगलवार सुबह हार्टअटैक आया था, जिसके बाद उन्हें रायपुर के डॉक्टर भीमराव अंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली। बीडी टंडन 1953 से 1967 के दौरान अमृतसर में नगर निगम पार्षद और 1957, 1962, 1967, 1969 तथा 1977 में अमृतसर से विधानसभा के सदस्य निर्वाचित हुए। 1997 के विधानसभा चुनाव में टंडन राजपुरा विधानसभा सीट से निर्वाचित हुए थे। वह पंजाब के उपमुख्यमंत्री भी रह चुके थे। टंडन 1979 से 1980 के दौरान पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता भी रहे।

*अजीत वाडेकर*
भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान अजीत वाडेकर का 77 साल की उम्र में 15 अगस्‍त को निधन हो गया। उन्होंने मुंबई के जसलोक में अंतिम सांस ली। वह काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वाडेकर ने 1966 से 1974 तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला।

*साहब सिंह चौहान*
पूर्वी दिल्ली से पांच बार विधायक रहे साहब सिंह चौहान का गुरुवार को निधन हो गया. वह काफी समय से बीमार चल रहे थे और कैंसर से पीड़ित थे. वैशाली के मैक्स अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली. वे 68 वर्ष के थे. चौहान उत्तर पूर्वी दिल्ली के यमुना विहार और घोंडा विधानसभा क्षेत्र से 1993 से 2013 के बीच 5 बार लगातार विधायक चुने गये.

वाजपेयी जी के कारण मैं सार्वजनिक जीवन में आया – कोविंद

वाजपेयी जी के कारण मैं सार्वजनिक जीवन में आया – कोविंद

नई दिल्ली:🇮🇳 राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर उनकी दत्तक पुत्री नमिता कौल भट्टाचार्य को पत्र लिखकर अपनी शोक संवेदना जाहिर की। राष्ट्रपति ने पत्र में कहा, “अटलजी भारतीय राजनीति के नवचेतना पुरुष थे।” उन्होंने कहा, “अटल बिहारी वाजपेयी के निधन की इस दुखद घड़ी में मेरी संवदेनाएं और भावनाएं आपके और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ हैं। अटलजी का निधन स्वभाविक रूप से आपका और घर में अन्य लोगों का व्यक्तिगत नुकसान है, लेकिन यह मेरे लिए भी व्यक्तिगत क्षति है।” राष्ट्रपति ने कहा, “यह उनका कद और मर्यादा का आकर्षण था, जिसके कारण मैं कानूनी पेशा छोड़कर उनका सहयोगी बनने के लिए सार्वजनिक जीवन में आया। उनके साथ काम करना अविस्मरणीय अनुभव है। देश का राष्ट्रपति बनने के बाद जब मैं उनसे मिला तो वे शय्या पर थे, लेकिन उन्होंने अपनी आंखें हिलाकर प्रतिक्रिया की और मैंने अनुभव किया कि उन्होंने मुझे आशीर्वाद दिया।”

वाजपेयी का गुरुवार को 93 साल की आयु में नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में निधन हो गया। उनकी अंत्येष्टि शुक्रवार को पूर्ण राजकीय सम्मान के साथ राष्ट्रीय स्मृति स्थल में हुई। हजारों लोगों ने उनको श्रद्धा सुमन अर्पित किए। कोविंद, उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता व विदेशी उच्चाधिकारियों ने दिवंगत नेता को अंतिम विदाई दी। राष्ट्रपति ने कहा कि अटलजी के जाने से देशभर के लाखों घरों में शोक का माहौल है। वे हमारे अतिशय प्रिय, पूर्व प्रधानमंत्री, विलक्षण प्रतिभा से पूर्ण एक राष्ट्रीय नेता और आधुनिक भारत के राजनीतिक विशारद थे। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता सेनानी से लेकर एक बौद्धिक शख्सीयत, एक लेखक से लेकर एक कवि, एक सांसद से लेकर एक प्रशासक और अंत में प्रधानमंत्री के रूप में उन्होंने अपने लंबे और असाधारण राजनीतिक जीवन में असंख्य लोगों के जीवन को कतिपय तरीकों से प्रभावित किया।

राष्ट्रपति ने कहा कि वे सही मायने में भारतीय राजनीति के नवचेतना पुरुष थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के रूप में अटलजी दबाव के अंदर भी सभ्यता के एक उदाहरण थे और चुनौतीपूर्ण परिस्थियों में भी फैसला लेने की उनमें काबिलियत थी। 1998 में पोखरण परमाणु परीक्षण, 1999 में कारगिल संकट, उनकी सरकार में किए गए आर्थिक बदलाव और देश के जीडीपी को वृद्धि और विकास के पटरी पर लाने जैसे कदम अटलजी की सरकार की उपलब्धियां रही हैं। राष्ट्रपति ने कहा कि 2015 में उन्हें भारतरत्न की उपाधि से नवाजा जाना उनके प्रति भारत के प्यार और कृतज्ञता की अभिव्यक्ति थी। इस विराट हृदय वाले महान राजनेता का जाना न सिर्फ भारत में, बल्कि पूरी दुनिया में महसूस किया जाएगा।

पिछले 10 दिनों के अंदर 7 हस्तियों ने इस दुनिय ा को अलविदा कह दिया।

पिछले 10 दिनों के अंदर 7 हस्तियों ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया।

*अटल बिहारी वाजपेयी*

16 अगस्त को भारत ने एक अनमोल रत्न खो दिया। अटल बिहारी वाजपेयी, जिन्होंने बीजेपी को शून्य से शिखर पर पहुंचा दिया था, उन्होंने 16 अगस्त को शाम 5 बजकर 5 मिनट पर अंतिम सांस ली। अटल बिहारी वाजपेयी 1991, 1996, 1998, 1999 और 2004 में लखनऊ से लोकसभा सदस्य चुने गए थे। बता दें कि अटल 1999 से 2004 तक बतौर प्रधानमंत्री अपना कार्यकाल पूर्ण करने वाले पहले और अभी तक एकमात्र गैर-कांग्रेसी नेता हैं। 25 दिसंबर, 1924 में जन्मे वाजपेयी ने भारत छोड़ो आंदोलन के जरिए 1942 में भारतीय राजनीति में कदम रखा था। देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने गुरुवार 16 अगस्त को अंतिम सांस ली। वह दिल्ली के खिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में भर्ती थे। उनकी स्थिति काफी नाजुक बनी हुई थी। 5 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। इस ख़बर को सुनकर मानो देश भर की धड़कन थम गई हो।

*आरके धवन*

इंदिरा गांधी के निजी सचिव रहे और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता 81 वर्षीय आरके धवन का 6 अगस्‍त को निधन हो गया। पंजाब यूनिवर्सिटी से स्नातक आरके धवन 1962 से 1984 तक इंदिरा के निजी सचिव रहे। वह 1990 में राज्यसभा के लिए चुने गए। इसके अलावा वह कई संसदीय समितियों के सदस्य रहे। वह राज्यसभा के सांसद भी रहे थे।

*वीएस नायपॉल*

साहित्य का नोबल पुरस्कार जीतने वाले भारतीय मूल के प्रसिद्ध लेखक वीएस नायपॉल का 12 अगस्त को निधन हो गया था। 85 वर्षीय नायपॉल ने लंदन स्थित अपने घर में आखिरी सांस ली। नायपॉल को 1971 में बुकर प्राइज और साल 2001 में साहित्य के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

*सोमनाथ चटर्जी*

लोकसभा के पूर्व अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी का 13 अगस्त को निधन हो गया। वह 89 साल के थे। राजनीतिक सफर की बात करे तो वह करीब करीब चार दशक तक सांसद रहे। उनके निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शोक प्रकट किया था।

*बलराम दास (बीडी) टंडन*

छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलराम दास (बीडी) टंडन का 14 अगस्त को रायपुर में निधन हो गया। 90 वर्षीय बीडी टंडन को मंगलवार सुबह हार्टअटैक आया था, जिसके बाद उन्हें रायपुर के डॉक्टर भीमराव अंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली। बीडी टंडन 1953 से 1967 के दौरान अमृतसर में नगर निगम पार्षद और 1957, 1962, 1967, 1969 तथा 1977 में अमृतसर से विधानसभा के सदस्य निर्वाचित हुए। 1997 के विधानसभा चुनाव में टंडन राजपुरा विधानसभा सीट से निर्वाचित हुए थे। वह पंजाब के उपमुख्यमंत्री भी रह चुके थे। टंडन 1979 से 1980 के दौरान पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता भी रहे।

*अजीत वाडेकर*

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान अजीत वाडेकर का 77 साल की उम्र में 15 अगस्‍त को निधन हो गया। उन्होंने मुंबई के जसलोक में अंतिम सांस ली। वह काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वाडेकर ने 1966 से 1974 तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला।

*साहब सिंह चौहान*

पूर्वी दिल्ली से पांच बार विधायक रहे साहब सिंह चौहान का गुरुवार को निधन हो गया. वह काफी समय से बीमार चल रहे थे और कैंसर से पीड़ित थे. वैशाली के मैक्स अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली. वे 68 वर्ष के थे. चौहान उत्तर पूर्वी दिल्ली के यमुना विहार और घोंडा विधानसभा क्षेत्र से 1993 से 2013 के बीच 5 बार लगातार विधायक चुने गये.