आईसीसी ने 28 सिंतबर से क्रिकेट के कुछ नए नियम लागू किए हैं. पूर्व भारतीय क्रिकेटर संजय मांजरेकर ने ‘फेक फील्डिंग’ के नए नियम पर आपत्ति जताई है. उनका मानना है कि यह नियम एमएस धोनी के लिए मुसीबत का सबब बन सकता है. संजय माजरेकर ने कहा कि जैसे धोनी बॉल पकड़कर उसे स्टम्प्स पर थ्रो करने का दिखावा करते हैं. ये सराहनीय है, ना कि इस पर पेनल्टी लगनी चाहिए. मांजरेकर ने आईसीसी से भी इस नियम पर एकबार फिर से विचार करने को कहा है. बता दें कि यदि कोई फील्डर बॉल पकड़ नहीं पाता और थ्रो करने का इशारा करता है तो ये ‘फेक फील्डिंग’ में आएगा. ऐसे में फील्डिंग टीम पर पेनल्टी लगाकर बैटिंग टीम को पांच अतिरिक्त रन दिए जाते हैं.

संजय मांजरेकर ने ट्वीट में लिखा, ‘फेक फील्डिंग के लिए पांच पेनल्टी रन देना अभी लागू हुए क्रिकेट के नए नियमों में सबसे हास्यास्पद है. ICC से इस पर फिर से विचार करने का आग्रह करता हूं.’ उन्होंने कहा कि बैटिंग करने वाले टीम पर भी 5 रन की पेनल्टी लगाना कैसा रहेगा, यदि कोई बैट्समैन फेक स्टेप आउट करने की कोशिश करता है. क्या ये बॉलर को भ्रमित करना नहीं होगा. फेक फील्डिंग लॉ को हटाना चाहिए.’