श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों के हमले में शहीद एएसआई अब्दुल रशीद की बेटी जोहरा की मदद के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनिंग बल्लेबाज गौतम गंभीर आगे आए हैं.

गंभीर ने मंगलवार को एक ट्वीट कर जोहरा की पढ़ाई का खर्च उठाने की बात कही है. गंभीर ने अपने द्वीट में कहा, जोहरा मैं आपको लोरी सुनाकर सुला तो नहीं सकता हूं, लेकिन मैं आपको अपने सपने जीने के लिए उठने में मदद करुंगा.

उन्होंने लिखा, मैं जीवनभर आपकी शिक्षा में मदद करुंगा. #भारत की बेटी. अनंतनाग जिले के मेहंदी कदल में 28 अगस्त को आतंकवादियों ने राशिद की हत्या कर दी थी. अपने पिता के जनाज़े के पास रोते हुए जोरा की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं.

गंभीर ने लिखा, जोहरा अपने आंसुओं को जमीन पर गिरने नहीं देना, क्योंकि मुझे लगता है कि धरती मां भी तुम्हारे दुख का भार उठा नहीं पाएगी. उन्होंने कहा, आपके शहीद पिता एएसआई अब्दुल राशिद को सलाम.