नई दिल्ली| डीडीसीए ने न्यूजीलैंड के साथ होने वाले पहले टी-20 मैच से पहले मंगलवार को फिरोज शाह कोटला स्टेडियम के गेट नंबर 2 का नाम भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग के नाम पर रखा. इस मौके पर मौजूदा टीम इंडिया के खिलाडियों समेत कई पूर्व खिलाडी मौजूद थे. सहवाग दिल्ली के पहले क्रिकेटर हैं जिनके नाम पर कोटला के किसी गेट का नामकरण किया गया है.

हालांकि इसके साथ ही डीडीसीए से एक बड़ी चूक भी हुई है. गेट पर सहवाग का एक कटआउट लगा है जिसमें लिखा है ‘लीजेंड्स आर फॉरएवर’, साथ ही सहवाग के 14 साल लंबे करियर से जुड़े आंकड़े और उपलब्धियों का जिक्र भी इस कट आउट के साथ एक पैनल में किया गया है.

पैनल में सहवाग को टेस्ट क्रिकेट में ‘तिहरा शतक लगाने वाला इकलौता भारतीय बल्लेबाज’ बताया गया है. सहवाग  तिहरा शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज जरूर हैं लेकिन ऐसा करने वाले वह इकलौते खिलाडी नहीं हैं. पिछले साल कर्नाटक के करुण नायर ने इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में तिहरा शतक जड़ा था.

आपको बता दें कि सहवाग ने टेस्ट क्रिकेट में दो बार तिहरे शतक जड़े हैं. वे इकलौते भारतीय  बल्लेबाज है जिसने ये मुकाम हासिल किया है. पहला तिहरा शतक उन्होंने 2004 में पाकिस्तान के खिलाफ लगाया था दूसरा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2008 में जड़ा था.  दुनिया में केवल 4 ही ऐसे क्रिकेटर हैं, जिन्होंने अपने क्रिकेट करियर में दो तिहरे शतक जड़े हैं. इस एलीट क्लब में सर डॉन ब्रैडमैन, वीरेंद्र सहवाग ब्रायन लारा और क्रिस गेल शामिल हैं.