नई दिल्ली. राज्यसभा सांसद और बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी के एक बयान पर फिर विवाद शुरू हो गया है. सुब्रमण्यम स्वामी ने सोशल मीडिया पर मंत्रियो के ड्रेस कोड के बारे में लिखा कि पश्चिमी परिधान एक तरह से विदेशी गुलामी का प्रतीक है. उन्होंने कहा कि वेस्टर्न कपड़े भारतीय मौसम के अनुकूल नहीं हैं. मंत्रियो को देशी कपड़े पहनना चाहिए.

स्वामी ने आगे लिखा की भारतीय जनता पार्टी को चाहिए कि वो अपने मंत्रियों के लिए एक अनुशासन बनाए. इसके आलावा उन्होंने लिखा देशी परिधान पहनने से देश के अंदर भारतीय संस्कृति को नया आयाम मिलेगा. वहीं उन्होंने गुजरात के अहमदाबाद का नाम कर्णावती के नाम पर रखा जाना चाहिए क्योंकि अहमदाबाद का पुराना नाम कर्णावती था. पीएम मोदी से इस मसले पर फैसला लेने को कहा है.