मुंगेर. बिहार के मुंगेर जिले के असरगंज थाना क्षेत्र में एक पिता ने दुष्कर्म के बाद गर्भवती हो चुकी अपनी 15 वर्षीय पुत्री की समाज के डर से हत्या करने की कोशिश की. पीड़िता के बचने के बाद इस मामले की जानकारी पुलिस तक पहुंची. पुलिस के अनुसार असरगंज थाना क्षेत्र के सजुआ गांव के रहने वाला एक व्यक्ति ने अपनी 15 वर्षीय गर्भवती पुत्री को इलाज कराने के बहाने मंगलवार को भागलपुर जिले के सुल्तानगंज थाना क्षेत्र स्थित श्मशान घाट ले गया और वहीं मुंह में कपड़ा डालकर गला दबाकर उसकी हत्या करने की कोशिश की. जब उसे लगा की लड़की की मौत हो गई है, तब उसे वहीं छोड़कर वापस घर लौट आया.

मंगलवार रात 12 बजे के करीब जब लड़की होश में आई, तब वह शोर मचाने लगी. श्मशान घाट पर तैनात एक व्यक्ति की नजर लड़की पर पड़ी जिसके बाद उस व्यक्ति ने बुधवार को लड़की को सुल्तानगंज थाने पहुंचाया. सुल्तानगंज के थाना प्रभारी संजय कुमार सिंह ने गुरुवार को बताया कि पीड़िता के बयान के आधार पर हत्या की कोशिश करने के आरोप में सुल्तानगंज थाना में एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, जिसमें 2 लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया है. आरोपियों में पीड़िता के पिता और दादा शामिल हैं.

दर्ज प्राथमिकी में पीड़िता ने 6 महीने पूर्व गांव के ही एक लड़के पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है. उन्होंने बताया कि पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है, पीड़िता को चिकित्सकीय जांच के लिए अस्पताल भेजा गया है. पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है.