New Delhi Latest News

Bike-Borne Assailants Snatch Phone From Diplomat Eenam Gambhir in Delhi’s Rohini

New Delhi, Dec 25: Two bike-borne assailants snatched mobile phone from Eenam Gambhir, India’s First Secretary in the Permanent Mission of India to the UN in national capital’s Rohini area, on the pretext of asking directions. The incident took place on Saturday night when Gambhir was out for a post-dinner walk with her mother.

At around 11:30 PM, when Eenam and her mother reached Vatsalya Mandir near their residence, two assailants on a motorcycle arrived and started asking them the address of a Hanuman temple. Talking about the incident, Indian Foreign Service officer’s father Jagdish Kumar Gambhir, said that the iphone had a US-registered SIM card and contained crucial documents.

In one sense, it is a step forward because 22 months after they arrested this poor man, finally somebody is able to see him. On the other hand, the way in which role unfolded was deeply unsatisfactory: Shashi Tharoor, Congress on #KulbhushanJadhav’s meeting with his family

In one sense, it is a step forward because 22 months after they arrested this poor man, finally somebody is able to see him. On the other hand, the way in which role unfolded was deeply unsatisfactory: Shashi Tharoor, Congress on ‘s meeting with his family

कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने कहा- बाटी चोखा कच्चा वोट, दारू मुर्गा पक्का वोट

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत के बाद सत्ता में आई भारतीय जनता पार्टी सरकार की मुश्किलें अब उनके अपने मंत्री ही बढ़ाने लगे हैं. योगी आदित्यनाथ की सरकार के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर के बयान से सूबे में हलचल मच गया है. राजभर ने एक सभा को संबोधित करते हुए गरीबों पर विवादित बयान दिया है. ओमप्रकाश राजभर ने अपने भाषण के दौरान कहा कि गरीब दारू पीकर और मुर्गा ख़ाकर वोट देता है.

उन्होंने गरीबों का उपहास उड़ाते हुए कहा कि शराब पीने के वो खुद को राष्ट्रपति से कम नहीं समझते हैं. कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने रविवार को बलरामपुर में कहा कि ‘बाटी-चोखा कच्चा वोट, दारू-मुर्गा पक्का वोट. उन्होंने कहा की शराब पीकर और मुर्गा खाने वाले लोगों लखनऊ जाने वाले नेता अपने दफ्तर का चक्कर कटावते हैं. और यही सबसे बड़ा कारण भी है कि गरीब का विकास नहीं होता पाता है. अपनी इस दुर्दशा के लिए गरीब खुद जिम्मेदार है.

AIIMS में इन पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, ऐसे करें अप्लाई

नई दिल्ली: ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (AIIMS) ऋषिकेश ने स्टॉफ नर्स और अन्य पदों के लिए कुल 153 भर्ती निकाली है. इस वैकेंसी के अप्लाई करने के लिए आपके पास 8 जनवरी 2018 तक का समय है. इन पदों से जुड़ी अधिक जानकारी नीचे दी गई है.

कहां निकली वैकेंसी-
ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (AIIMS), ऋषिकेश

सैलरी-
वैकेंसी विभिन्न पदों के लिए निकला है इसलिए सैलरी भी पदों के मुताबिक तय की गई है. एक अनुमान के मुताबिक, 93 हजार तक सैलरी रखी गई है. 

योग्यता-
भर्ती में आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को बीएससी नर्सिंग या डिप्लोमा किया होना आवश्यक है.

उम्र-
इस पद पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की अधिकतम आयु 35 और न्यूनतम 21 साल होनी चाहिए.

चुनाव प्रक्रिया-
लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर चयन किया जाएगा.

महत्‍वपूर्ण तिथि-
8 जनवरी 2018

ऐसे करें आवेदन-
आवेदन करने के लिए ऑफिशियल वेबसाइट www.aiimsrishikesh.edu.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं.

 

भारतीयों में उम्र से 15 साल पहले हो रही है किडनी की बीमारी!

नई दिल्ली. विकसित देशों के मुकाबले भारत में लोगों को 15 साल पहले किडनी की बीमारी अपने चपेट में ले रहा है. नेफ्रोप्लस के चिकित्सीय अनुसंधान में सामने आए आंकड़ों से यह चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. भारत में औसतन 52 साल की उम्र में लोगों को डायलिसिस की जरूरत पड़ती है तो वहीं विकसित देशों में इसकी जरूरत 67 साल के बाद शुरू होती है.

नेफ्रोप्लस के संस्थापक और सीईओ विक्रम वुप्पला ने एक साक्षात्कार में बताया, ‘एक शोध में पता चला है कि अमेरिका और ब्रिटेन के मुकाबले भारत में 52 साल की उम्र के मरीजों को डायलिसिस की जरूरत शुरू हो जाती है जबकि उन देशों में इसकी जरूरत 67 साल की उम्र के बाद शुरू होती है. सबसे जरूरी बात यह है कि भारत में विकसित देशों के मुकाबले 15 साल पहले ही यह बीमारी देश पर हमला कर रही है. गुर्दे का निष्प्रभावी होना एक बड़ी चिंता है. अगर भारत में आयु की अवधि 67 साल है तो आखिरी के 15 साल बहुत महत्वपूर्ण रहेंगे.’

 नेफ्रोप्लस ने पिछले 4 सालों में 18 राज्यों के 82 शहरों में अपने 128 केंद्रों पर 21759 मरीजों की जांच की. जिसमें 70 फीसदी पुरुष (15437) को डायलिसिस को जरूरत हुई. वहीं इसमें महिलाओं की संख्या 30 फीसदी (6322) है. विक्रम ने कहा कि हम सोच रहे थे कि यह अंतर 2 से 3 फीसदी का होगा लेकिन रिपोर्ट में यह 70 और 30 फीसदी सामने आया है. यह बहुत चौंकाने वाला है. महंगा इलाज होने के कारण सामाजिक देखभाल क्षेत्र में महिलाओं को कम महत्व दिया जाता है.

उन्होंने कहा, ‘गुर्दे के खराब होने का पहला कारण विदेशों के मुकाबले भारत में मधुमेह और रक्तचाप का बहुत तेजी से बढ़ना है. भारत के जेनेटिक कोड में मधुमेह और रक्तचाप को ग्रहण करने की अपार क्षमता है. दूसरे देशों के फास्ट फूड में मधुमेह और रक्तचाप से लड़ने की क्षमता होती है लेकिन भारत में फास्ट फूड मधुमेह और रक्तचाप को बहुत तेजी से बढ़ाता हैं. हमारा जेनेटिक कोड दूसरे देशों के मुकाबले ज्यादा खतरनाक है. जब जेनेटिक कोड और फास्ट फूड का मिश्रण होता है तो मधुमेह और रक्तचाप का खतरा बहुत बढ़ जाता है. जिसके कारण हमारे देश में 20 साल की उम्र से लेकर 30 साल के भी मरीज हैं जिनके गुर्दे खराब हो गए हैं.’

नेफ्रोप्लस के संस्थापक ने कहा कि बात करें हमारी जीवनशैली की तो भारत में ज्यादातर काम बैठ कर करने, देर रात खाना खाने, कभी कभार खाने को छोड़ देना और पश्चिमी खानपान अपनाना हमारी सेहत के लिए खतरनाक सिद्ध हो रहा है.

उदारण देते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली एक हवाई अड्डे पर फूड कोर्ट में खाने पीने की 3 दुकाने हैं जहां सबसे ज्यादा भीड़ एक पर लगती है क्योंकि वहां सस्ता और जल्दी खाना मिल जाता है दरअसल हमें जब भूख लगती है तो हम बस खाना चाहते हैं. और वे बना बनाया खाना पकड़ा देते हैं. यह जो पश्चिमी खानपान की आदत है बहुत गंभीर मुद्दा है. जिसपर सरकार ध्यान नहीं देती है, लोग ध्यान नहीं देते. क्योंकि यह सस्ता और जल्दी मिल जाता है. अगर देखा जाए तो सब्जियों की करी एक बर्गर से ज्यादा महंगी है. उन्होंने कहा, ‘जो सस्ता और तेज होता है तो वह हमारी आबादी को आकर्षित करता है.’

विक्रम ने कहा कि जिन युवाओं ने अभी नौकरियां शुरू की है उन्हें इस तरह का खाना पसंद है. रेस्तरां की यह रणनीति है कि माहौल युवा हो, अच्छा हो, बैठकर बातें करने वाला हो जिसके लिए वह सस्ता खाना बेच रहे हैं. जो इस युवा आबादी की सेहत को खराब कर रहा है.

उन्होंने बताया, ‘बात करें मोटापे की तो भारत में बच्चों में मोटापे की समस्या तेजी से बढ़ रही है. वे पिज्जा, चीप्स, बर्गर, सोडा का प्रयोग कर रहे हैं जिससे रक्तचाप और मधुमेह का खतरा तेजी से बढ़ रहा है. इन चीजों का प्रयोग करने से 5 से 10 साल में गुर्दे पूरी तरह से खराब हो जाते हैं और उन्हें डायलिसिस की जरूरत पड़ती है या गुर्दे ट्रांसप्लांट कराने पड़ते हैं, जो काफी महंगे हैं. महंगा होने के कारण लोग खर्च वहन नहीं कर पाते और उनकी उम्र कम हो जाती है.’

उन्होंने कहा कि बहुत जल्दी मधुमेह हो जाना, बहुत जल्दी गुर्दे की बीमारी आना और उसके बाद बहुत जल्दी गुर्दे खराब हो जाना भारत में विकसित देशों के मुकाबले 15 साल पहले हो रहा है.

विक्रम ने कहा, ‘नीति निर्माताओं को यह देखना चाहिए कि 15 साल पहले देश में हो रहे इस घटनक्रम को रोकने के लिए फास्टफूड पर रोक लगानी चाहिए अन्यथा सरकार के लिए यह काफी महंगा साबित हो सकता है. देश में 7 करोड़ लोग मधुमेह से ग्रस्त हैं. अगर उनकी देखभाल नहीं करेंगे तो उन्हें गुर्दे की बीमारी होगी. भारत के पास उतना पैसा नहीं है कि इनके इलाज का खर्च वहन कर सके.

Mumbai: India’s First AC Local Train Flagged Off

 New Delhi, Dec 25: India’s first air-conditioned local train, running between Churchgate and Borivli was flagged off by Maharashtra minister Vinod Tawde and other dignitaries at 10:30 AM on Monday.  Initially the AC local will run on an experimental basis for a week in the Churchgate-Borivili section. It will start full-fledged operations from January 1, 2018, with 12 daily services.

Manufactured by Chennai’s Integral Coach Factory, the fully air-conditioned air-suspension coaches have a capacity of carrying nearly 6,000 commuters. The local train has automatic door opening-closing system, LED lights, Emergency Talk Back System between commuters and guard besides a public address system, advanced GPS-based passenger information systems, air-tight vestibules inter-connecting all 12 coaches and other modern amenities including the latest safety features for commuters.

PM Modi Inaugurates Delhi Metro’s Magenta Line, Says Mass Transit System Need of The Hour

New Delhi, Dec 25: Prime Minister Narendra Modi on Monday, December 25, inaugurated Delhi Metro’s Magenta Line linking south Delhi’s Kalkaji and Noida’s Botanical Garden.  PM Modi also took a ride in the driverless train from Botanical Garden Station to Okhla Bird Sanctuary. Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath, Governor Ram Naik also accompanied PM Modi on the metro train ride. The newly inaugurated metro line will open for public use from 5:00 PM today. The Magenta line, when complete, will run from Botanical Garden to Janakpuri West.

Addressing a public gathering at Amity University ground after the flagging-off ceremony, PM Modi thanked people of Uttar Pradesh for sending him to Lok Sabha from the state. The PM added that the newly inaugurated metro line will benefit the future generations.

“It is due to the people of Uttar Pradesh that the nation has got a strong and stable Government. I will always remain grateful to UP for their affection. We live in an era in which connectivity is all important. This Metro, whose line was just inaugurated, is not only for the present but also for future generations,” PM Modi said.

With a Glass Wall Between Them, Kulbhushan Jadhav Meets Family in Islamabad

New Delhi, Dec 25: More than a year after he was arrested by Pakistani forces on charges of espionage, Indian national Kulbhushan Jadhav was allowed to meet his mother and wife in Islamabad. The meeting, which took place at Pakistan Foreign Ministry in Islamabad, lasted for about 30 minutes.

Kulbhushan Jadhav, wearing a blue-coloured suit, and his family sitting in front of each other was all over Pakistani media. A glass wall separated Jadhav and his family. The former Navy officer, who was awarded death sentence by a Paksitani military court earlier this year, was only allowed to speak to his mother and wife over intercom. Jadhav’s family would return to India later in the evening.