आखिर क्यों दीपिका पादुकोण के लिए ‘पद्मावती’ में काम करना थका देने वाला अनुभव रहा?

अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने कहा कि वह खुद को सौभाग्यशालीसमझती है कि उन्हें पद्मावती का किरदार निभाने का मौका मिला, हालांकि फिल्म का उनका अनुभव काफी थका देना वाला रहा. दीपिका हेमा मालनी की जीवनी- ‘बीऑन्ड द ड्रीम गर्ल’ के लॉन्च पर आई थी.

उन्होंने कहा, “पद्मावती में काम करने का उनका अनुभव काफी थका देने वाला रहा. नौ महीनों तक दिन रात लगातार किसी किरदार पर काम करने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है. कुछ किरदार आपाका हिस्सा बन जाते हैं.”

अपनी सफलता के बारे में दीपिका ने कहा, “मैं समझती हूं कि यह थका देने वाली प्रक्रिया है क्योंकि यहां तक पहुंचने के लिए हमने काफी मेहनत की है. और सिर्फ मेहनत ही नहीं है, हमें एक किरदार को पर्दे पर निभाने के लिए अपनी निजी जिंदगी से समझौता करके एक अनुशासित जीवन जीना होता है.”

दीपिका ने आगे कहा, “इस पूरी प्रक्रिया में मुझे अपने परिवार से दूर रहना पड़ा. मैं हमेशा नकारात्मकता से लड़कर एक मजबूत व्यक्ति के रुप में उभरी हूं. मैंने बेहद छोटी उम्र में ही काम करना शुरू कर दिया था और मैं 12वीं की परीक्षा के बाद अपनी औपचारिक शिक्षा जारी नहीं रख पाई.”

उन्होंने कहा, “शुरुआत में मेरे माता-पिता ने इसका समर्थन नहीं किया. मेरे काम की अप्रत्याशित प्रकृति को देखते हुए वह चाहते थे कि पहले मैं अपनी पढ़ाई पूरी करूं.”

उन्होंने आगे कहा, “इसके अलावा एक मध्यवर्गीय रूढ़िवादी परिवार की मानसिकता भी थी, लेकिन बाद में मेरी निष्ठा को देखते हुए उन्होंने इसे समझा और मुझे पूरा समर्थन दिया. लेकिन इस दौरान मैं औपचारिक शिक्षा पूरी नहीं कर पाई, तो मैं 12वीं पास हूं.”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *