निगम कर्मियों की हड़ताल का छठा दिन – जोन चेय रमैन का किया पुतला दहन

11 अक्टूबर से लगातार ,पूर्वी निगम कर्मचारी अपनी लंबित जवलनतशील मांगो को लेकर हड़ताल पर है । सोमवार से सफाई कर्मचारियों के अन्य संगठनों के भी हड़ताल में शामिल होने से अब हड़ताल ने विकराल रूप ले लिया है जिसके तहत पूर्वी दिल्ली के अलावा उत्तरी दिल्ली के सिविल लाइन्स, सिटी जोन, करोल बाग , नरेला, रोहिणी , में पूरी तरह काम बंद रहा वही दक्षिणी दिल्ली के दो जोन वेस्ट जोन और नजफगढ़ जोन में व्यापक स्तर पर सफाई व्यवस्था पर प्रतिकूल असर पड़ा है । वही हड़ताली कर्मचारियों का नेतृत्व कर रहे एम सी डी स्वच्छता कर्मचारी यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष संजय गहलोत ने कहा कि पूर्वी निगम आयुक्त बार बार अपना बचकाना बयान देते है कि केवल 3000 कर्मचारी ही हड़ताल पर है, सफाई व्यवस्था दुरुस्त है लेकिन अब सोमवार से क्या कहेंगे जबकि पूर्वी दिल्ली के तमाम वार्डों का आज काम काज ठप्प हो चुका है। गहलोत ने कहा कि निगम आयुक्त का ये कहना कि जो कर्मचारी काम नही करेगा उसका बोनस काट देंगे, यह भी सरासर गलत है क्योंकि कानून के मुताबिक अगर कोई कर्मचारी बोनस और अपने जी पी एफ के लिए अधिकृत है तो चाहे कर्मचारी बेशक जेल में भी हो तो संस्था के मुखिया (नियोक्ता) को जेल में जाकर ही उसकी राशि देनी पड़ेगी । हालांकि संजय गहलोत ने कहा कि निगम कर्मचारियो की मांगों के रूप में निगम प्रशाशन को सकारात्मक रुख अपनाना चाहिए ,अन्यथा इसके और अधिक गम्भीर परिणाम हो सकते है ।

हड़ताली कर्मचारियों ने आज हड़ताल के छठे दिन सेंकडो की संख्या में शाहदरा भोला नाथ नगर स्थित बाबूराम स्कूल पर इकट्ठा होकर स्थानीय निगम पार्षद और शाहदरा दक्षिणी जोन के चेयरमैन निर्मल जैन के कार्यालय पहुंचकर जमकर हंगामा किया और पुतला दहन किया , हालांकि भारी पुलिस बल के हस्तक्षेप के चलते बाबूराम स्कूल चौराहे पर पूरी तरह चक्का जाम किया गया जिसे सुचारू रूप से करवाने के लिए पुलिस को कड़ी मशक्क्त करनी पड़ी । आगामी रणनीति के तहत यूनियन अध्यक्ष ने एलान किया कि मंगलवार 17 अक्टूबर को दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के मंडावली स्थित कार्यलय पर प्रदर्शन करके पुतला दहन किया जाएगा । उन्होंने कहा कि मांगे माने जाने तक हड़ताल बदस्तूर जारी रहेगी

प्रदर्शन में: आर बी ऊंटवाल, जोगिंदर ढिंगिया, जोगिंदर वैद, पुष्पेंद्र त्यागी, प्रेमचंद गौतम, जोगिंदर बहोत, अनिल चूडियाना, दयानंद टांक, राहुल टांक, नीरज बागड़ी, सुभाष जीनवाल, धीरसिंह चूडियाना, सुरेशपाल बैनीवाल राकेश लीडर, नितिन बागड़ी, प्रमोद म्हरोलिया, मनोज चूडियाना, दीपक चौहान, प्रदीप मचल, सरला चिंडालिया, संजय सुमन, गोविंद बिष्ट समेत सेंकडो कर्मचारी मौजूद रहे ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *