‘मुजफ्फरनगर-द-बर्निंग लव’ के रिलीज पर आनाकानी को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने UP सरकार को भेजा नोटिस

सेंसर बोर्ड से पास होने के बावजूद फिल्म ‘मुजफ्फरनगर-द-बर्निंग लव’ को कुछ सिनेमाघरों ने रिलीज नहीं किया गया था. उत्तरप्रदेश के कुछ इलाके छोड़कर फिल्म 17  नवंबर को पूरे देश में रिलीज हुई थी. लेकिन, यूपी के कुछ इलाकों जैसे मुजफ्फरनगर, शामली, बागपत, गाजियाबाद, मेरठ और उतराखंड में इसे कानून व्यवस्था बिगड़ने का हवाला देकर रिलीज नहीं करने दिया गया. जिसे लेकर फिल्म के निर्देशक और टीम ने दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेस करके अपना दर्द भी बयां किया था.

mujfar nagar

लेकिन फिल्म पद्मावती के बाद अब सुप्रीम कोर्ट ने इस फिल्म के लिए भी एक बड़ा फैसला दिया है. न्‍यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार निर्माता ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी जिसमें कहा गया था फिल्म ‘मुजफ्फरनगर-द-बर्निंग लव’ दंगों से प्रेरित फिल्म है लेकिन दंगों पर आधारित नहीं. फिल्म में प्रेम भाव को दिखाया गया है. इसी याचिका की सुनाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को इस बाबत नोटिस भेजा है.

 

फिल्म के निर्देशक हरीश कुमार ने दिल्ली में आयोजित प्रेस कॉफ्रेंस में कहा था, हमने सेंसर बोर्ड के सारे नियम-कानून को ध्यान में रखकर फिल्म बनाई. वहां से फिल्म को यू/ए सर्टिफिकेट देकर पास कर दिया गया. किसी को कोई आपत्ति नहीं हुई. यूपी और कई जगह पर फिल्म शांतिपूर्वक रिलीज भी हो गई. लेकिन वेस्ट यूपी में कई सिनेमाघरों के मालिको ने इसे रिलीज करने से मना कर दिया. कारण पूछे जाने पर बताया गया उनके पास प्रशासन की तरफ से आर्डर है ‘मुजफ्फरनगर-द-बर्निंग लव’ से कानून व्यवस्था खराब हो सकती है. चुनाव का समय है इसलिए फिल्म को दिखाने का रिस्क नहीं लिया जा सकता है.

दंगे पर बनी है फिल्म
फिल्म ‘मुजफ्फरनगर-द बर्निंग लव’ की कहानी 2013 में यूपी के शहर में हुए मुजफ्फरनगर दंगे से प्रेरित है.’ फिल्म में दिखाया गया है कि शहर में किस तरह भड़के दंगों में हिंदुओं ने मुसलमान को बचाया और मुसलमानों ने हिंदुओं को बचाने के लिए मस्जिद में पनाह दी. धर्म के नाम पर आपस में लड़ा कर दोनों धर्मों के नेता एक साथ बैठकर अपनी अपनी रोटियां सेंकते नजर आए.

पहले भी फिल्म के प्रदर्शन को लेकर हुआ है बवाल
साल 2015 में रिलीज होने वाली कॉमेडी फिल्म ‘मिस टनकपुर हाजिर हो’ के प्रदर्शन पर भी परेशानी हुई थी. पश्चिमी उत्तर प्रदेश से जुड़े विवादित मुद्दों को सिनेमाघरों में दिखाने में निर्माता को हमेशा मुश्किलें आती हैं. देखिए इंडिया.कॉम की फिल्म के निर्माता निर्देशक हरीश कुमार के साथ एक खास मुलाकात

फिल्म मोरना एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड बैनर तले बनी है. इसके राइटर और प्रोड्यूसर मनोज कुमार मांडी हैं, डायरेक्शन हरीश कुमार ने किया है और म्यूजिक मनोज नयन, राहुल भट्ट और फराज अहमद.ने दिया है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *