Daily Archive: June 8, 2018

After Air India Delays Salary, Pilot Union Plans Mass Non-Cooperation

The Indian Commercial Pilots’ Association (ICPA), the pilots union of Air India, said they would stop complete cooperation with the management because of the delay in their salaries.

In a letter to the ICPA’s Central Executive Committee (CEC), the Regional Executive Committee (REC) said the non-cooperation would continue until salary payment is regularised and normal functioning is restored.

“In the REC meeting held in Delhi on June 06, Delhi REC unanimously decided that no wages on time amount to financial stress and mental agony, thereby resulting in undue fatigue, which is severely affecting flight safety. With no notification about delayed salary payment, members are being hounded by financial institutions constantly, severely affecting their day to day life. Keeping in view of the above consideration, REC has decided to STOP Complete Co-Operation with the Management till the time salary payment is regularized and normal functioning is restored,” the letter read.

The REC further claimed that the airline management has prioritised the interest of its current employees “much below” that of its retired employees, thereby stagnating the morale and career progression of its serving workforce.

डेटा सबसे बड़ी ताकत है और भारत में डेटा अधि क सुरक्षित, स्मार्ट सिटी और साइबर सुरक्षा पर गंभीर मंथन मैं बोल एक्सपोर्ट्स

नई दिल्ली, 08 जून। उत्तराखंड के राज्यपाल डॉ. के.के. पॉल का कहना है कि तकनीकी के इस दौर में डेटा ही असली पूंजी है। इसे बहुत संभाल कर रखना चाहिए व इसकी सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध करने चाहिए। इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में ‘स्मार्ट सिटी और साइबर सुरक्षा’ विषय पर आयोजित एक दिन के सेमिनार का उद्घाटन करते हुए डॉ. पाल ने अपने विस्तृत संबोधन में साइबर सुरक्षा के सभी पहलुओं पर विस्तार से बात रखी।

इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सेक्युरिटी एंड सेफ्टी मैनेजमेंट द्वारा आयोजित इस सेमिनार में विभिन्न साइबर सुरक्षा से जुड़े 300 से अधिक प्रतिनिधि शामिल हुए। एन.एस.जी., आई.टी.बी.पी. और बी.एस.एफ. आदि सुरक्षा बलों के साइबर विभाग के प्रतिनिधि भी सेमिनार में शामिल हुए।

स्मार्ट सिटी और साइबर सुरक्षा विषय पर अपना विस्तृत शोध प्रस्तुत करते हुए उत्तराखंड के राज्यपाल डॉ. के.के. पॉल ने कहा कि एक समय में माओत्से तुंग ने कहा था कि सत्ता बंदूक की नली से निकलती है। वह दौर बहुत पहले बीत गया। समझना होगा कि आज असली ताकत सूचना में हैं। यहां तक की भूगर्भीय खनिज पदार्थो और जमीन के मुकाबले आजकल डेटा भी एक सम्पदा हो गया है। सूचना प्रौद्योगिकी के इस युग में डेटा को संरक्षित रखने और उसके दुरूपयोग को रोकने के लिए भारत ने सन् 2000 में आई.टी.एक्ट बनाया था।

इसके निरंतर विकास और उत्पन्न चुनौतियों को देखते हुए इस एक्ट में अब तक 20 संशोधन हो चुके हैं। इसी से हम सूचना युग में इसका महत्व समझ सकते हैं।

डॉ. पॉल ने कहा कि नई तकनीकी ने हमारे पूरे जीवन और समाज को प्रभावित किया है। आपसी सूचनाओं का आदान-प्रदान और लेन-देन से लेकर पूरा व्यापार तकनीकी पर आधारित होता जा रहा है। ऐसे में निजता की सुरक्षा बहुत महत्व रखती है। आपकी जानकारी और आवश्यक गोपनीय बातों की सुरक्षा का महत्व बहुत बढ़ जाता है। हमें चाहिए कि हम लोगों को जागरूक करें कि कौन सी बातें सोशल मीडिया से लेकर संस्थाओं तक को शेयर करें और कौन सी नहीं, खासकर बच्चों को इस बारे में सावधान करना चाहिए।

उत्तराखंड के राज्यपाल ने कहा कि सरकारों और उसके संस्थानों को भी डेटा की सुरक्षा के प्रति चौकन्ना रहना पड़ेगा और इस बात के पुख्ता इंतजाम करने होंगे कि कोई भी उनका दुरूपयोग न कर सके। साइबर हमले से हुई कई बड़ी घटनाओं का जिक्र करते हुए डॉ. पाल ने कहा कि बदलते दौर में बम से कहीं ज्यादा ताकतवर कम्प्यूटर का की-बोर्ड हो गया है। ऐसे में साइबर संसार के प्रति लोगों का विश्वास बना रहे और साइबर क्राइम के मामलों में त्वरित गति से कार्रवाई हो और अपराधियों को सजा मिले, इसके लिए व्यवस्था बनानी होगी।

इसी विषय पर बोलते हुए नीति आयोग के अध्यक्ष अमिताभ कांत ने कहा कि विश्व के अन्य देशों के मुकाबले भारत में डेटा अधिक सुरक्षित है। डेटा को भविष्य की पूंजी बताते हुए अमिताभ कांत ने कहा कि जहां अनेक देशों में डेटा गूगल और फेसबुक या अली बाबा जैसी निजी कंपनियों के पास है वहीं भारत में अधिकांश डेटा सरकारी संस्थानों के पास है, इसलिए वह अधिक सुरक्षित है। नए दौर में तकनीकी के बढ़ते इस्तेमाल पर विस्तार से बोलते हुए अमिताभ कांत ने कहा कि अब 99 प्रतिशत लोग इन्कम टैक्स ऑनलाइन ही भरते हैं। बैंक एकाउंट खोलना चुटकी बजाने जितना आसान हो गया है। लोगों के हाथों में स्मार्ट फोन बढ़ते जा रहे हैं। एक समय आएगा जब क्रेडिट कार्ड, डेविट कार्ड और एटीएम की उपयोगिता भी नहीं रह जाएगी।

श्री कांत ने भारत में नई तकनीकी के उपयोग का आंकड़ा देखें तो जितना डेटा अमरीका और चीन के लोग मिलाकर खर्च करते हैं उससे ज्यादा अकेले भारत में उपयोग में लाया जाता है। आर्थिक लेन-देन से लेकर स्वास्थय के मामलों में हमारी निर्भरता निरंतर नई तकनीकी पर निर्भर होती जा रही है। ऐसे में साइबर सुरक्षा के खतरों के प्रति सावधान रहने की आवश्यकता है। साइबर क्राइम के मामले में भारत का विश्व में इस समय 23वां स्थान है। उन्होंने बताया कि इस सरकार ने पहली बार बजट में साइबर सुरक्षा के लिए 110 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है।

स्मार्ट सिटी की अवधारणा को साफ करते हुए अमिताभ कांत ने कहा कि गांवों से शहरों की ओर हो रहे निरंतर पलायन को देखते हुए भारत को 2050 तक 500 नए शहरों की आवश्यकता होगी। हम अमरीका और यूरोप की तरह शहरों को विकसित नहीं कर सकते क्योंकि वह अनियोजित विकास है। इसलिए हमने अभी से शहरों के नियोजित विकास पर काम करना शुरू कर दिया है। अत्याधुनिक तकनीकी से संचालित होने वाले इन शहरों में पानी के पुनर्प्रयोग और कूड़े कचरे के निष्पादन का बेहतर प्रबंधन होगा।

कार्यक्रम के संयोजक व आईआईएसएसएम के कार्यकारी अध्यक्ष व राज्यसभा सांसद आर.के.सिन्हा ने इस आयोजन के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि एक दौर में अब निजी सुरक्षा से कहीं अधिक आर्थिक सुरक्षा का महत्व है। नई तकनीकी के आ जाने से पूरा परिदृश्य बदल गया है। ऐसे में साइबर संसार पर बढ़ती निर्भरता और उस पर आसन्न खतरों को समझकर पूर्व तैयारी करने की आवश्यकता है।

Job Vacancy for – Correspondent / English News Reporter for TenNews.In National News Portal

Job Vacancy for – Correspondent / English News Reporter for TenNews.In National News Portal

Experience

2 – 5 yrs

Job Location

Delhi, Greater Noida, Noida

Salary

2,,50,000 – 3,00,000 P.A.

Job Description

NEWS REPORTING, NEWS CONTENT WRITING, NEWS EDITING, ONLINE NEWS CONTENT MANAGEMENT AND DOING SPECIAL FEATURES

r

Industry: Media / Entertainment / Internet

Functional Area: Journalism , Editing , Content

Role Category: Journalist/Writer

Role: Sub Editor/Reporter

Employment Type: Permanent Job, Full Time

Education-

UG: BJMC

PG: MJMC

Company Profile:

TEN NEWS

Ten News Network – Prospects and Retrospect’s

It envisions to position itself among the Top Ten News Portals of India.

The Mission of Ten News Network is to publish online, the latest and top ten National News everyday from Ten Different News Categories.

Ten News Network comprises of four news portals, nine thriving social media channels and 12 segmented WhatsApp groups with dedicated and high profile following. Ten News Network has been a formidable force and one of the protagonists in digital news space in the Delhi NCR region. he first venture parichowk.com, a Greater Noida Focused News Portal, was launched by Shri Shantonu Sen , Former Joint Director and SPL IG, CBI, in 2006 on the auspicious occasion of Diwali*- way before the onset of modern internet age explosion

For more visit
http://tennews.in/about-us/.

E mail resume at Sunita@tennews.in

Two letters from Maoist organisations received, threatening Maharashtra CM & his family members. Both letters mentioned the recent Gadchiroli encounters

Two letters from Maoist organisations received, threatening Maharashtra CM & his family members. Both letters mentioned the recent Gadchiroli encounters where several Maoists were gunned down.Police is investigating: Maharashtra Home Ministry Sources

3 वर्षों में सभी मीटर स्मार्ट प्रीपेड होंगे : श्री आर के सिंह

विद्युत मंत्री ने निर्माताओं को उत्पादन बढ़ाने की सलाह दी इस कदम से बिजली क्षेत्र में क्रांति आएगी, रोजगार सृजन होगा

विद्युत तथा नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री आर के सिंह ने कहा है कि अगले तीन वर्षों में सभी मीटर स्मार्ट प्रीपेड होंगे और बिजली बिल आपके घर पहुंचने के दिन समाप्त हो जायेंगे। श्री सिंह विद्युत मंत्रालय द्वारा आयोजित मीटर निर्माताओं की बैठक को संबोधित कर रहे थे।

विद्युत मंत्री ने निर्माताओं को सलाह दी कि वे स्मार्ट प्रीपेड मीटरों का उत्पादन बढ़ाएं क्योंकि आने वाले वर्षों में इसकी बड़ी मांग होगी। उन्होंने मंत्रालय के अधिकारियों को सलाह दी कि वे एक विशेष तिथि के बाद स्मार्ट प्रीपेड मीटरों को अनिवार्य बनाने पर विचार करें।

इससे बिजली क्षेत्र में क्रांति आयेगी। एटी तथा सी नुकसान कम होंगे, बिजली वितरण कंपनियों की स्थिति सुधरेगी। ऊर्जा संरक्षण को प्रोत्साहन मिलेगा और बिल भुगतान में सहजता आयेगी। इससे युवाओं के लिए कौशल संपन्न रोजगार भी मिलेंगे।

बैठक में मीटरों के विभिन्न पहलुओं जैसे बीआईएस प्रमाणीकरण, आरएफ/जीपीआरएस के साथ मेल तथा वर्तमान डिजिटल संरचना के साथ मेलमिलाप पर चर्चा की गई। बैठक में इस बात पर सहमति बनी की सभी तकनीकी पहलुओं पर मीटर निर्माताओं, बिजली वितरण कंपनियों तथा प्रणाली एकीकरण करने वालों की सलाह से आगे विचार-विमर्श किया जाएगा।

बैठक में विद्युत सचिव श्री ए के भल्ला, अपर सचिव श्री संजीव नंदन सहाय, संयुक्त सचिव श्री अरुण कुमार वर्मा तथा केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण, पीएफसी, आरईसी, ईईएसएल के अधिकारी और मीटर निर्माता उपस्थित थे।

***

वीके/एएम/एजी/सीएस- 8849

(Release ID :72637)

सेना के जवान व्यक्तिगत कपड़ा खरीदेंगे

सातवें वेतन आयोग ने सेना के जवानों को मौद्रिक मुआवजा दिया है ताकि जवानों को सेना द्वारा किए जाने वाले प्रबंध के अंतर्गत वर्दी के लिए व्यक्तिगत रूप से कपड़ा खरीदने की अनुमति हो। व्यक्तिगत चुनिंदा कपड़ों के बदले सभी जवानों को 10,000 रुपये के वार्षिक भत्ते का भुगतान किया गया है। इसी के अनुसार सेना ने सीएसडी दुकानों से अच्छा कपड़ा खरीदने का प्रबंध किया है। सिलाई का कार्य यूनिट प्रबंध के अंतर्गत किया जाएगा या जवान किसी दूसरे तरीके से कपड़ों की सिलाई अधिकृत निर्देशों के अनुसार करा सकेंगे। यह प्रावधान केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के लिए भी लागू होता है। इसलिए मीडिया में अपर्याप्त शोध के आधार पर लिखे गए लेखों में इस विषय पर सेना को अलग रूप में देखना गलत और अनुचित है।

 

PM interacts with beneficiaries of various health care schemes across the country through video bridge

The Prime Minister, Shri Narendra Modi, today interacted with the beneficiaries of Pradhan Mantri Bhartiya Janaushadhi Pariyojna and other Central Government health care schemes from across the country, through video bridge. This is the fifth interaction in the series by the Prime Minister through video bridge with various beneficiaries of Government schemes.

Explaining the importance of healthcare and wellness, Prime Minister said that health is the basis for all success and prosperity. He added that that India would become great and healthy only when its 125 crore citizens are healthy.

Interacting with the beneficiaries, Shri Modi said that illness not only creates a huge financial burden on families, especially poor and middle class, but also affects our socio economic sectors.  Hence, it is the endeavour of the government to ensure affordable healthcare to every citizen. Prime Minister added that Pradhan Mantri Bhartiya Janaushadhi Pariyojna was launched with this intention so that poor, lower middle class and middle class get access to affordable medicines and their financial burden is reduced.

Government has opened more than 3600 Jan Aushadhi Kendras all over the country, where more than 700 generic medicines are available at affordable price. The cost of medicines at Jan Aushadhi Kendras are 50-90% less than the market price, Prime Minister said and added that the number of Jan Aushadhi Kendras will reach over 5000 in the near future.

Talking about health stents, Prime Minister Shri Modi said that earlier citizens had to sell or mortgage property to purchase health stents. He added that, the government has reduced the prices of stents substantially to help poor and middle class. The cost of heart stents have reduced from around Rs. 2 lakh to Rs. 29000.

During the interaction, Shri Narendra Modi said that the Government has reduced knee transplant prices by 60 – 70%, thereby bringing down the cost from Rs. 2.5 lakh to around Rs.70, 000 – 80,000. It is estimated that around 1 to 1.5 lakh knee operations happen in India every year. On that account, the reduction in knee transplant prices has saved close to Rs.1500 crore for public.

Through Pradhan Mantri Rashtriya Dialysis Program, Government has performed more than 22 lakh dialysis sessions for 2.25 lakh patients in more than 500 districts. More than 3.15crore children and 80 lakh pregnant women have been vaccinatedin 528 districts through Mission Indradhanush. In order to ensure more beds, more hospitals and more doctors, Government has opened 92 medical colleges and increased MBBS seats by 15000.

Prime Minister said that to make healthcare affordable and accessible, Government launched the Ayushman Bharat scheme. Under Ayushman Bharat, 10 crore families will be covered with health insurance of Rs. 5 lakh. Talking about ‘Swachh Bharat Mission’, Prime Minister said that the scheme is playing a central role in creating a healthy India. Due to the Swachh Bharat Abhiyan, there are now 3.5 lakh open defecation free villages in India and the sanitation coverage has increased by 38%.

Interacting with the Prime Minister, beneficiaries explained how Pradhan Mantri Bhartiya Janaushadhi Pariyojna brought down the cost of the medicines and made it affordable. Beneficiaries also talked about how reduced prices of heart stent and knee transplants have changed their life.

Prime Minister also appealed to the public to take up Yoga, make it part of life style and thereby help in building a healthy nation.

*****

AKT/SH/SBP

(Release ID :179838)

Delegation of SGPC with Minister of Food Processing Industries calls on Prime Minister

A delegation led by Union Minister for Food Processing Industries Smt. Harsimrat Kaur Badal, today called on Prime Minister Shri. Narendra Modi. The delegation also consisted of members from Shiromani Gurdwara Parbandhak Committee.

The delegation thanked the Prime Minister for Union Government’s scheme  ‘SevaBhojYojna’ , which will reimburse the Central Share of CGST and IGST on items for Langar and Prasad, offered free of cost by Charitable Religious Institutions including Gurdwaras.

The delegation also thanked the Prime Minister for the series of measures taken by the Union Government to ease the burden on Sugarcane farmers.

***

AKT/KP/SH/SK

(Release ID :179864)