Daily Archive: June 3, 2018

Required English News Reporter / Content Writer for TEN NEWS at Noida and New Delhi

Vacancy Notice

tennews.in : National News Portal

Qualification:

MASS COMM / JOURNALISM – POST GRADUATE

Experience: 2 to 3 years

Salary: 2.25 to 3 lacs

Openings: 2

Job Location: New Delhi/Noida

Job Description:

NEWS REPORTING, NEWS CONTENT WRITING, NEWS EDITING, ONLINE NEWS CONTENT MANAGEMENT AND DOING SPECIAL FEATURES

Desired Candidate Profile

MASS COMM / JOURNALISM – POST GRADUATE WITH FLUENCY IN ENGLISH , 2 – 3 YEARS EXPERIENCE IN ENGLISH NEWS REPORTING AND WRITING FOR NEWS PAPER .

CANDIDATES WHO MUST BE LOYAL TO THE COMPANY , CAN WORK DEDICATEDLY AND CAN WORK WITH SPEED OF INTERNET NEED APPLY.

QUALIFICATION AND EXPERIENCE COULD BE GIVEN RELAXATION IF A CANDIDATE HAS POTENTIAL TO BE A NEWS WRITER , ENERGETIC AND TALENTED

CV submission on – sunita , ncrdelhi

आइआइटी कानपुर के दीक्षा समारोह में आएंगे राष्ट्रपति

*आइआइटी कानपुर के दीक्षा समारोह में आएंगे राष्ट्रपति*

*गौरव शुक्ला*
आइआइटी कानपुर के 51वें दीक्षा समारोह में राष्ट्रपति कोविंद मुख्य अतिथि रहेंगे। कार्यक्रम 2…

*संवाददाता* कानपुर आइआइटी का 51वां दीक्षा समारोह 28 जून को कम्युनिटी हॉल (ऑडिटोरियम) में आयोजित होगा। समारोह के मुख्य अतिथि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद होंगे। एक दिन के तीन अलग-अलग सत्रों में होने वाले इस समारोह में 1700-1800 छात्र-छात्राओं को डिग्रियां व सर्टिफिकेट दिए जाएंगे। राष्ट्रपति के मिनट टू मिनट कार्यक्रम का प्रस्ताव आइआइटी प्रशासन की ओर से राष्ट्रपति भवन को भेज दिया गया है। हालांकि राष्ट्रपति भवन की ओर से अभी तय कार्यक्रम (अंतिम रूप से) की जानकारी आनी बाकी है। आइआइटी निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने शनिवार को बताया कि मिनट टू मिनट कार्यक्रम में राष्ट्रपति एक घंटा (11-12 बजे) कैंपस में रहेंगे और पहले सत्र में प्रेसीडेंट गोल्ड मेडल समेत छह अन्य मेडल छात्र-छात्राओं को अपने हाथ से देंगे। यह योजना आइआइटी प्रशासन ने बनाई है। समारोह तीन सत्रों में होगा। राष्ट्रपति के अलावा सूबे के राज्यपाल व मुख्यमंत्री को भी आइआइटी प्रशासन आमंत्रण पत्र भेजेगा। इसके अलावा तैयारियों को देखते हुए बैकअप प्लान भी बनाया गया है। कहा कि आइआइटी कानपुर की वेबसाइट पर कार्यक्रम का विस्तृत ब्योरा भी अपलोड कर दिया गया है।

सोमवार को सीनेट में तय होंगे अवार्ड के नाम

दीक्षा समारोह में किन छात्र-छात्राओं को अवार्ड दिए जाएंगे, यह सोमवार को सीनेट की बैठक में तय होगा। डीन ऑफ एकेडमिक अफेयर प्रो. नीरज मिश्रा ने कहा, दीक्षा समारोह की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। पहले बीटेक के छात्र-छात्राएं सम्मानित होंगे फिर एमटेक के। दूसरे सत्र में परास्नातक के छात्र-छात्राओं को मंच पर डिग्री व प्रमाण पत्र मिलेगा और तीसरे सत्र में स्नातक के छात्र-छात्राओं को।

एप पर मिलेगी पूरी जानकारी

छात्र-छात्राओं को दीक्षा समारोह की हर छोटी से छोटी जानकारी कॉन्वोकेशन एप पर मिलेगी। प्रो. नीरज मिश्रा ने कहा एप को वर्ष 2017 में तैयार किया गया था। 51वें दीक्षा समारोह की जानकारी के लिए उसे मोडिफाई किया जा रहा है।

27 को दीक्षा समारोह की रिहर्सल

दीक्षा समारोह के दौरान किसी तरह की कोई अव्यवस्था न हो, इसके लिए आइआइटी प्रशासन एक दिन पहले 27 जून को दीक्षा समारोह का रिहर्सल करेगा। रिहर्सल में तीन अलग-अलग सत्रों के दौरान छात्र-छात्राओं को डिग्रियां और सर्टिफिकेट व मेडल दिए जाएंगे।

ये होगा पहनावा

छात्रों के लिए : नेहरू स्टाइल फुल स्लीव कुर्ता(लंबाई घुटनों तक) क्रीम रंग का, पायजामा सफेद रंग का।

छात्राओं के लिए : नेहरू स्टाइल कुर्ता क्रीम रंग का, चूड़ीदार पायजामा सफेद रंग का, या क्रीम रंग की साड़ी।

No Homework For Class I, II, Hints HRD Minister

Kolkata: The Centre will bring a bill in Parliament to ensure that schools do not assign homework to students of classes 1 and 2, HRD Minister Prakash Javadekar has said.

His remarks came in the wake of an interim order of the Madras High Court on May 30 asking the Centre to instruct state governments to reduce the weight of children’s school bags and do away with homework for classes 1 and 2.

Javadekar said he believed there cannot be learning without fun.

“I welcome the decision (of the court). We are studying the order and will definitely do whatever is required,” he told a press conference here yesterday.

The Union minister said the Centre will bring a no homework bill in the Monsoon Session of Parliament in compliance with the Right of Children to Free and Compulsory Education Act, 2009, and hoped it will be passed.

As farmers’ protest enters Day 3, vegetable prices soar

Bhopal: A 10-day nationwide protest called by farmer outfits entered its third day on Sunday, June 3 in Madhya Pradesh, affecting vegetable and milk supply which in turn increased the vegetable prices.

There were no reports of violence during the “Gaon Bandh” (rural shutdown) which the farmers started on Friday demanding loan waiver, higher prices for their produce and immediate implementation of the Swaminathan Commission report on farming.

Vegetables were sold at some places under police protection.

Aam Kisan Union chief Kedar Sirohi told IANS: “The farmers are supporting the agitation in a big way because of which the supplies are not reaching the cities (from villages). The government is trying to break the protest but has failed.”

The protest was called ahead of the first anniversary of the death of several farmers in police firing in the state’s Mandsaur (on June 6, 2017).

On Wednesday, a ceremony will be organised to pay tribute to the Mandsaur victims which will be attended by Congress President Rahul Gandhi.