Daily Archive: November 29, 2017

प्याज के दाम जल्द होंगे कम: पासवान

नई दिल्ली: उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान ने बुधवार को कहा कि राजस्थान और मध्य प्रदेश से प्याज की नए प्याज की आवक के साथ इसके दाम में कमी आएगी. प्याज की खुदरा कीमतें कई जगह 80 रुपये किलो तक पहुंच गयी हैं. हालांकि खरीफ की प्याज का उत्पादन इस साल कम रह सकता है, पर सरकार इसकी आपूर्ति बढ़ाने तथा इसकी कीमतों में तेजी पर अंकुश लगाने के लिये कुछ ठोस पहल की है.

प्याज और टमाटर की ऊंची कीमत से उत्पन्न स्थिति की समीक्षा के बाद पासवान ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने दिल्ली और अन्य शहरों में वितरण के लिये महाराष्ट्र सरकार से केंद्र की तरफ से 10,000 टन प्याज खरीद का आग्रह किया है.’’ उन्होंने कहा कि आपूर्ति बढ़ने के साथ टमाटर के दाम भी नरम होने शुरू होंगे. टमाटर के खुदरा मूल्य 60 से 70 रुपये किलो पहुंच गया है.

Maharashtra: 5 people arrested with demonetised currency notes of Rs 500 and Rs 1000 with face value of Rs 1.08 Crore in Thane. Income tax department informed.

Maharashtra: 5 people arrested with demonetised currency notes of Rs 500 and Rs 1000 with face value of Rs 1.08 Crore in Thane. Income tax department informed.

नहीं बदलेगी दूसरी ‘अंगूरी भाभी’ शुभांगी अत्रे

टेलीविजन धारावाहिक ‘भाबीजी घर पर हैं’ में अंगूरी भाभी की भूमिका निभा रहीं अभिनेत्री शुभांगी अत्रे का कहना है कि वह शो नहीं छोड़ रही हैं.

यह पूछे जाने पर कि क्या वह राजनीति में शामिल होने के लिए शो छोड़ रही हैं, शुभांगी ने कहा, “मैं शो नहीं छोड़ रही. मुझे नहीं पता कि ये निराधार अफवाहें कहां से आ रही हैं. लोगों ने मुझे एक राजनीतिक कार्यक्रम में देखा और यहां तक कि शो में इस समय मैं चुनाव में खड़ी हो रही हूं. इसलिए शायद अफवाहें वहां से आ रही होंगी.”

अभिनेत्री ने कहा कि वह धारावाहिक में अपनी भूमिका का आनंद ले रही हैं.

उन्होंने कहा, “मैं अपनी भूमिका का आनंद ले रही हूं और प्रशंसकों का मनोरंजन करती हूं.”

पिछले साल मई में शुभांगी को शिल्पा शिंदे के स्थान पर लिया गया है. वह ‘भाबीजी घर पर हैं’ में पहले अंगूरी भाभी की भूमिका में थीं.

–आईएएनएस

Reliance Digital joins hands with Fossil India, offers latest ‘Wearable Tech’ smartwatches in India

Established watchmakers have of late been showing a lot of interest in smartwatches, and Fossil is one of those popular watch brands. Now, the latest Fossil smartwatches will be sold through Reliance Digital stores, according to an official statement from the company. Reliance Digital, the consumer electronics and durables

वोडोफोन ने पेश किया ‘रेड टुगेदर’ प्लान, मिलेगा 20 जीबी तक अतिरिक्त डेटा

नई दिल्ली: दिग्गज दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी वोडाफोन इंडिया ने अपने पोस्टपेड ग्राहकों के लिए ‘रेड टुगेदर’ प्लान पेश किया है. ये प्लान समूह और परिवार के लिए उतारा गया है. कंपनी का दावा है कि समूह के पूरे बिल का भुगतान एकसाथ करने पर 20 प्रतिशत तक की बचत होगी. साथ ही 20 जीबी तक अतिरिक्त डेटा भी मिलेगा.

इस पेशकश के तहत उपभोक्ता दोस्तों, परिवार या उपकरण को एक समूह में जोड़ सकते हैं और साथ ही पूरे समूह का भुगतान खुद की कर सकते हैं. इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए ग्राहकों को रेड प्लान लेना होगा. कंपनी ने रेड बेसिक प्लान भी उतारा है, इसकी कीमत 399 रुपये है.

भारतीयों के फेफड़ों की क्षमता उत्तरी अमेरिकियों-यूरोपियों के मुकाबले 30 फीसदी कम

नई दिल्ली. भारतीयों की फेफड़ों की क्षमता उत्तरी अमेरिका या यूरोप के लोगों के मुकाबले 30 प्रतिशत कम है जिससे उन्हें मधुमेह, दिल का दौरा या आघात होने का खतरा अधिक होता है. इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी (आईजीआईबी) संस्थान के निदेशक डॉ. अनुराग अग्रवाल का मानना है कि इसके पीछे जातीयता के साथ वायु प्रदूषण, शारीरिक गतिविधि, पोषण, पालन-पोषण मुख्य कारक हैं. शांति स्वरूप भटनागर पुरस्कार से सम्मानित अग्रवाल इस पर अहम अध्ययन कर रहे हैं.

अग्रवाल ने कहा कि अमेरिकन थोरासिक सोसायटी से उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, भारतीयों की फोसर्ड वाइटल कैपैसिटी (एफवीसी) उत्तरी अमेरिकियों या यूरोपीय लोगों के मुकाबले 30 फीसदी कम है. हालांकि चीन के लोगों से मामूली रूप से कम है. एफवाईसी अधिकतम श्वास लेने के बाद जितना संभव हो सके, उतनी जल्दी श्वास छोड़ने की कुल मात्रा है. उन्होंने कहा कि एफवाईसी इस बात का संकेत होता है कि किसी व्यक्ति में दिल की बीमारियों को सहने में कितनी क्षमता है.

अग्रवाल ने पीटीआई से कहा कि इसका मतलब यह है कि अमेरिकी मानकों पर मापे जाने वाले एक औसत में भारतीयों के फेफड़े की क्षमता कम होगी. इस श्रेणी के लोगों में मधुमेह, दिल का दौरा पड़ने तथा आघात से मरने की अधिक आशंका देखी गई. वल्लभभाई पटेल चेस्ट इंस्टीट्यूट में फुफ्फुसीय चिकित्सा विभाग के एक ताजा अध्ययन में यह पाया गया कि दिल्ली में बच्चों की फेफड़ों की क्षमता अमेरिका के बच्चों के मुकाबले 10 प्रतिशत कम है.

विज्ञान और पर्यावरण केंद्र (सीएसई) द्वारा जारी एक रिपोर्ट में मंगलवार को कहा गया कि दिल्ली में हर तीसरे बच्चे के फेफड़ों की स्थिति ठीक नहीं है.

VVPATs to be used in Gujarat, all future elections: CEC

Agartala, Nov 29 (PTI) Chief Election Commissioner A K Joti today said Voter Verifiable Paper Audit Trail (VVPAT) gadgets with Electronic Voting Machines (EVM) would be used for next month’s Assembly polls in Gujarat and in all future elections.

The machines run on battery and cannot easily be tampered with, the CEC said at a press conference here.

The Election Commission would buy new EVMs and VVPATs before the 2019 Lok Sabha election, he said.

The CEC also said EVMs and VVPATs would be used in all the 3170 polling stations in Tripura where Assembly elections are due early next year.

The final list of Tripura voters would be published on January 5 and the date for the state Assembly election would be announced after that, he said.

According to the draft list, 25.05 lakh people, including 12.30 lakh women, are eligible to vote in the state in 2018.

He said names of more than 28,000 ineligible voters including fake, dead and foreign voters were deleted from the list.

Joti said adequate Central security forces would be deployed to ensure the smooth conduct of the Tripura elections and the 856-km long border with Bangladesh would be sealed.

A high-level EC delegation led by Joti held meetings with representatives of different political parties, the chief secretary, director general of police and chief electoral officer here today.

The EC delegation had arrived here yesterday to oversee preparations for next year’s Assembly elections.