Daily Archive: October 19, 2017

सुषमा स्वराज ने पाकिस्तानियों को दिया दीव ाली का उपहार , जरूरतमंदों को दिया जाएगा मेडिक ल वीजा

दीवाली के अवसर पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने लोगों को एक बहुत बड़ा तोहफा देते हुए ऐलान किया है की दिवाली के मौके पर बाकी बचे सभी जरूरतमंदों को मेडिकल वीजा दिया जाएगा। यह खबर इन जरूरतमंदों के लिए राहत भरी है। दरसल जो विदेशी लोग भारत में अपना इलाज कराने आना चाहते है अब उनको जल्दी से मेडिकल वीजा उपलब्ध हो जाएगा | बता दें कि हाल ही में भी सुषमा स्वराज ने भारत में लिवर प्रतिरोपण सर्जरी के लिए दो पाकिस्तानी नागरिकों को वीजा दिए जाने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा कि उन्होंने इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायुक्त से भारत में लिवर प्रतिरोपण के लिए एक पाकिस्तानी महिला नसीम अख्तर को वीजा देने के लिए कहा है। गौरतलब है कि अख्तर के बेटे द्वारा सुषमा स्वराज से मदद का आग्रह किए जाने के बाद उन्होंने ये फैसला लिया। उन्होंने एक ट्वीट में कहा था कि मैंने भारतीय उच्चायुक्त से भारत में आपकी मां के लिवर प्रतिरोपण सर्जरी के लिए वीजा देने के लिए कहा है

दिल्ली एनसीआर में पटाखे की बिक्री को लेकर सीधे संबंधित थाने के प्रभारी पर होगी कार्यवा ही

सुप्रीम कोर्ट की ओर से एक नवंबर तक लगाए गए प्रतिबंध के बावजूद बाहरी दिल्ली में पटाखे की बिक्री जारी है। जिसको लेकर पुलिस ने अपनी कमर कसनी शुरू कर दी | वही आज अवैध रूप से पटाखे बेचे जाने पर पुलिस उन लोगों के खिलाफ कार्यवाही कर रही है | पुलिस अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली के नरेला के पाना मामूर में किराना दुकानदार अवैध रूप से पटाखे बेच रहा था, जिसकी शिकायत मिली थी। शिकायत के बाद दुकानदार को रंगे हाथ पकड़ने के लिए नरेला के एसएचओ जरनैल सिंह के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों की टीम बनाई गई थी। वही पुलिस उपायुक्त ने कहा कि पटाखे की बिक्री को लेकर सीधे संबंधित थाने के एसएचओ जिम्मेदार होंगे और उनके क्षेत्र में ऐसी कोई शिकायत मिलने पर उनके विरुद्ध तत्काल निलंबन की कार्रवाई की जाएगी।

दिवाली पर होने वाली आक्समिक घटनाओं को लेकर दिल्ली के अस्पताल तैयार

दिवाली पर होने वाली आक्समिक घटनाओं को ध्यान में रखते हुए दिल्ली के अस्पतालों ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं। इसके तहत मरीजों का तुरंत इलाज उपलब्ध कराने के उद्देश्य से अस्पतालों ने बर्न ओपीडी तैयार की है। दिवाली पर लोगों के जलने के मामले बड़ी मात्रा में सामने आते हैं। ऐसे मरीजों को उपचार उपलब्ध कराने के लिए अस्पताल ने 50 बिस्तरों की व्यवस्था सुनिश्चित की है। इसके साथ ही सभी वरिष्ठ विशेषज्ञ डॉक्टरों की ड्यूटी भी निर्धारित की गई है, साथ ही अन्य सभी विभागों को इस बारे में सूचित कर दिया गया है।

दिवाली के अवसर पर लोकनायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल, अरुणा आसफ अली, लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल समेत सभी बड़े-छोटे अस्पतालों ने जले हुए मरीजों को तत्काल इलाज उपलब्ध कराने के लिए अपनी व्यवस्थाएं दुरुस्त कर दी हैं। इसके तहत अस्पतालों ने डाक्टरों की टीम गठित की है जो इस तरह के मामलों को गंभीरता से देखेंगे और मरीज को तुरंत प्राथमिक उपचार देंगे।

पटाखों की बिक्री पर रोक लगाने के बाद भी दिल ्ली की स्थिति अब भी चिंताजनक

एनसीआर में प्रदूषण की स्थिति को देखते हुए इस बार कोर्ट ने बड़ा कदम उठाया है। दिल्ली और एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी गई है, लेकिन कही न कही अभी भी पटाखे बिक रहे है जिससे प्रदूषण की स्थिति गंभीर बनती जा रही है। जिसको लेकर दिल्ली प्रदूषण कंट्रोल कमेटी ने 10 स्टेशनों पर एयर क्वालिटी मापने की व्यवस्था की है। दिल्ली प्रदूषण कंट्रोल कमेटी ने जो केंद्र बनाए है वो ये है श्रीनिवासपुरी, वजीरपुर, करणी सिंह स्टेडियम, ध्यानचंद हॉकी स्टेडियम, जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, ITI जहांगीरपुरी, आनंद विहार बस अड्डा, मंदिर मार्ग, पंजाबी बाग और आरके पुरम शामिल हैं।