Daily Archive: September 11, 2017

जेपी इंफ्राटेक पर सुप्रीम कोर्ट की सख्ती, 27 अक्टूबर तक जमा करने होंगे 2000 करोड़

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने जेपी इंफ्राटेक मामले में सोमवार को कहा कि हमें घर खरीददारों की फिक्र है. कोर्ट ने जेपी एसोसिएट्स को शीर्ष अदालत में 27 अक्टूबर तक 2,000 करोड़ रुपये जमा कराने का निर्देश दिया है. इसके साथ ही जेपी इंफ्राटेक के प्रबंधक निदेशक और निदेशकों को कोर्ट की अनुमति के बगैर देश छोड़कर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.

कोर्ट ने नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) द्वारा गठित संस्था अंतरिम रेजोल्यूशन प्रोफेशनल्स (आईआरपी) को जेपी इंफ्राटेक के प्रबंधन की जिम्मेदारी लेने को कहा है. अब इस मामले की अगली सुनवाई अब 13 नवंबर को होगी.

Baby born to 13-year-old rape survivor dies

Mumbai, Sep 11 (PTI) A baby boy born to a 13-year-old rape survivor died barely 48 hours after his birth at a government hospital here, doctors said.

The girl, who was allowed by the Supreme Court to terminate her 32-week-old pregnancy on medical grounds, had on Friday delivered the baby after a caesarean section operation at the hospital, a doctor had earlier said.

The baby, who weighed 1.8kg, died yesterday at around 10.30am.

The premature infant was kept in the Neonatal Intensive Care Unit of the J J Hospital as most of his organs were underdeveloped, hospital sources said.

His condition turned critical yesterday and doctors removed him from an oxygen machine and put him on a ventilator, they said.

A medical officer said the hospital could not comment on the cause of the death as the postmortem report was yet to be finalised.

The teenager, who is still in the hospital, is being treated by gynaecologist Ashok Anand.

“We will discharge her from the hospital after her recovery,” Dr Anand said.

In its ruling on September 6, a bench headed by Chief Justice Dipak Misra had directed that the medical procedure be conducted on the girl at the earliest, preferably on September 8, after it took note of the report of the Supreme Court- appointed medical board comprising doctors of the J J Hospital.

 

Gurugram Child Murder: SC Notice to Centre, HRD Ministry, Haryana Govt

New Delhi, Sept 11: The Supreme Court on Monday issued notice to Centre, HRD Ministry and Haryana Government over the murder of a 7-year-old boy at Ryan International School on Sohna Road. The court has asked all parties to submit a report on the incident within three weeks. The victim’s father had moved the apex court seeking a probe by the Central Bureau of Investigation (CBI) into the case. He also sought that some tribunal or authority hears such types of cases.

A bench headed by Chief Justice Dipak Misra has also sought a response from the Central Board of Secondary Education (CBSE) on the plea, which has sought framing of guidelines to fix responsibility of school managements in case of such incidents and also regarding the safety and security of children.

Haryana Chief Minister Manohar Lal Khattar also spoke to the family of the victim and assured them of a CBI probe into the horrific murder. “We have full faith in Supreme Court and have also received a positive response from Haryana Government,” said the father of the 7-year-old who was murdered in the washroom of his school.

Meanwhile, Ryan International School CEO Ryan Pinto has filed an anticipatory bail application in Bombay High Court. The hearing is likely to take place tomorrow. This came after reports that a police team was reaching Mumbai to question Ryan Pinto. Two persons, both part of the school staff, have also been arrested in the case.

Seven-year-old Pradyuman was found murdered in his school toilet. A bus conductor allegedly killed the boy in a bid to sexually assault the victim. He has been arrested.

On the other hand, acting principal of Gurugram’s Ryan International School complained of health issues during questioning by Police. The principal has been taken to the hospital, reported ANI.

There were protests on Monday at not just the Sohna Road branch but other branches of Ryan International School, too, including Greater Noida. The school remained shut on Monday.

रेयान स्कूल मर्डर मामले में सख्त कार्रवाई, दो अधिकारी अरेस्ट, SC पहुंचा मामला

नई दिल्ली। गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल के सात वर्षीय छात्र निर्मम हत्या के मामले में स्कूल के दो वरिष्ठ अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया है.  एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि स्कूल के उत्तरी भारत प्रमुख फ्रांसिस थॉमस और कोऑर्डिनेटर और एचआर प्रमुख को रविवार रात किशोर न्याय अधिनियम (जेजेए) की धारा 75 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने कहा कि सोमवार को उन्हें एक अदालत में पेश किया जाएगा.

रेयान स्टूडेंट मर्डर की जांच में पुलिस की 14 टीमें जुटी हैं. पुलिस मुंबई जाकर रेयान इंटरनेश्नल के सीईओ रेयान पिंटो से पूछताछ करेगी. उधर, पिंटो ने सोमवार को मुंबई हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी दी है. इस पर मंगलवार को सुनवाई हो सकती है.

घर बैठे ऐसे करें SBI का बैंक अकाउंट एक ब्रांच से दूसरे ब्रांच में ट्रांसफर

मुंबई| भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने अपने खातेदारों के लिए नई सुविधा लाई है. सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक ने घर बैठे अपने खातेदारों के लिए ऑनलाइन एक ब्रांच से दूसरे ब्रांच में खाता ट्रांसफर करने की सुविधा शुरू की है. बता दें कि एसबीआई की देशभर में 24 हजार से अधिक ब्रांच है. इसके एटीम सेंटर भी कई बैंको की तुलना में ज्यादा है.

एसबीआई द्वारा की गई इस नई पहल का फायदा उन खातेदारों को मिलेगा जिनका लगातार ट्रांसफर होता रहता है. सरकारी नौकरी या प्राइवेट कंपनी में कई बार लोगों को एक शहर से दूसरे शहर ट्रांसफर किया जाता है. नई सुविधा के चलते वह तुरंत ही अपना खाता दूसरी ब्रांच में ट्रांसफर कर सकेंगे. इसके लिए ब्रांच में जाने की जरुरत नहीं.

ऐसे करें अपना अकाउंट ट्रांसफर:

इस सुविधा को इस्तेमाल करने के लिए पहले आपको एसबीआई की इन्टरनेट बैंकिंग की सुविधा एक्टिवेट करनी होगी.

एसबीआई की वेबसाइट पर लॉन इन कर ‘ई-सर्विस’ टैब पर क्लिक करना होगा.

इस सेक्शन में ‘ट्रांसफर ऑफ़ सेविंग अकाउंट’ का ऑप्शन है जिस पर क्लिक करना होगा.

आपको स्टेट बैंक में उपलब्ध खाते दिखाई देंगे. आपको जिस खाते को ट्रांसफर करना है उसे चुनना होगा. उस एसबीआई की शाखा का कोड डालना होगा और फिर ‘गेट ब्रांच नेम’ पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद शाखा का नाम और कोड नीचे दिए गए बॉक्स में दिखाया जाएगा. खातेदार को ‘टर्म्स एंड कंडीशन’ पढ़कर एक्सेप्ट पर क्लिक कर सबमिट करना होगा.

इसके बाद नई शाखा का नाम और कोड दिखाएगा, जिसमें आप अपना खाता ट्रांसफर करना चाहते हैं. इसे पूरी ध्यान से पढ़े और डिटेल भरें.

इसके बाद रजिस्टर्ड मोबाइल पर एक पासवर्ड आएगा, जिसे आपको फीड करना होगा.

यह पासवर्ड डालकर आपको कन्फर्म करना होगा जिसके बाद एक नया पेज खुलेगा जिस पर ट्रांसफर कंफर्मेशन मैसेज, आपकी मौजूदा शाखा और ट्रांसफर की हुई शाखा का विवरण दिखेगा.