Daily Archive: August 1, 2017

7 Reasons Why You Should Walk 30 Minutes Every Day

According to experts, you burn about 200 calories with 30 minutes of brisk walk. Here are five reasons why you should walk for 30 minutes every day.

1. Aids in weight loss

Walking for 30 minutes at moderate speed will help you lose weight. Harvard School of Public Health says that walking could reduce the effect of the genes that promote obesity by half. According to a study conducted in 2014 in Utah, the risk of obesity decreases by 5 percent in women with every minute of brisk walking.

2. Strengthens your heart

Regular walking lowers the risk of heart disease and strengthens your heart. It is a low-intensity cardio workout and it helps increasing the HDL levels and decreasing the LDL levels.

3. Prevent cancer

Morning walk
Morning walk

According to a study conducted by the American Cancer Society, the risk of breast cancer decreases by 14 percent by walking up to 7 hours per week. The study included 73,600 participants and the time duration was more than two decades.

4. Prevents dementia

A category of brain diseases, dementia decreases a person’s ability to remember and think. An elderly person can avoid these type of diseases by walking about 10 kilometers every week.

5. Boosts your mood

According to studies, walking triggers the release of feel-good endorphins and makes you happy. It not only lifts your mood but also relieves tension, stress and anxiety. Walking makes you a more positive person.

6. Improves immunity

Regular walking increases the immunity and helps your body fight against infections and diseases. Walking about 30 minutes every day can lower the risk of disease by about 43 percent.

7. Lowers blood pressure

According to Arizona State University researchers, walking 10 minutes every day can help lower your blood pressure.

High Sugar Intake Can Give You Depression

Today people are all fond of sweetness and their sugar intake is excessive. This news is for specific men who intake sugar in excessive quantity. According to recent research, men may have depression due to high sugar intake.

Researchers say that the men who consume excessive sugar increase the risk of depression in them. Anika Kunupal, a researcher at the University College London, says that eating more sugar, however, has a great effect on health, but it has been found in the study that sugar and mood  can also be related in disorder.

During the research on 5000 males for 22 year, the men who had consumed more than 67 gm of sugar increased the 23% probability of men’s deferred incidence after 5 years. So researchers recommend eating all the sugars in small quantities. Sweet food has been proven to be harmful to health.

युवक ने किया नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर् म , पुलिस ने किया आरोपी को गिरफ्तार

दिल्ली में एक नाबालिग लड़की के साथ दरिंदगी का मामला सामने आया है। दरसल पूरा मामला सीमापुरी इलाके का है। अपने चाचा के पास आई लड़की के साथ पड़ोस में रहने वाले युवक ने दुष्कर्म किया। दुष्कर्म की यह वारदात बाथरूम में दी गई। वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया, लेकिन बाद में पुलिस ने आरोपी गफ्फार (35) को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की मानें तो दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने वाला यह युवक शादीशुदा है और उसके तीन बच्चे हैं। पीड़िता 15 वर्षीय किशोरी परिवार के साथ सुंदरनगरी में रहती है। न्यू सीमापुरी में किराये के मकान में रहने वाले चाचा के यहां वह रविवार को आई थी। रात हो जाने के कारण चाचा ने उसे रोक लिया। सोमवार तड़के वह शौच के लिए उठी। किशोरी के चाचा के पड़ोस में रहने वाले युवक गफ्फार ने उसे बाथरूम में बंधक बना लिया और उसे जान से मारने की धमकी देकर उसे अपनी हवस का शिकार बनाया।

राज्यसभा में विपक्ष ने मारी बाजीः PM नाराज

राज्यसभा में विपक्ष ने मारी बाजीः PM नाराज, अमित शाह ने लगाई बीजेपी सांसदों की क्लास

नई दिल्ली. राज्यसभा में सोमवार को केंद्र सरकार के लिए असहज स्थिति पैदा हो गई. दरअसल, सांसदों की कम संख्या की वजह से विपक्ष का एक संशोधन राज्यसभा में पास हो गया. संविधान संशोधन के बिल पर हुई वोटिंग के दौरान विपक्ष बाजी मार ले गया. ये संविधान संशोधन बिल पिछड़े वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने से संबंधित था. जिस वक्त बिल सदन में पेश किया गया एनडीए के कई सांसद सदन में मौजूद नहीं थे. इसका सीधा फायदा विपक्ष को मिला और उसका संशोधन पास हो गया. इस किरकिरी पर पीएम नरेंद्र मोदी ने दोनों सदनों से बीजेपी सदस्यों की गैरमौजूदगी पर नाराजगी जाहिर की है.

राज्यसभा से पार्टी के लिए बुरी खबर मिलने पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह सक्रिय हो गए. उन्होंने पार्टी सांसदों को फटकार लगाई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शाह ने सांसदों को दो टूक कहा कि सभी को सदन में उपस्थित रहना चाहिए था. सभी को तीन लाइन के व्हिप का पालन करना चाहिए और सदन की कार्यवाही शुरू होने से समाप्त होने तक सदन में ही उपस्थित रहना चाहिए.

वहीं, बीजेपी संसदीय दल की बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने मीडिया से भी बात की. कुमार ने कहा कि जब तक संसद चले सभी सदस्यों को उपस्थित रहना चाहिए. सदस्यों की अनुपस्थिति के मामले को गंभीरता से लिया जाएगा. वहीं, ऐसी रिपोर्ट्स हैं कि बीजेपी चीफ अमित शाह ने सांसदों से सुनिश्चित करने को कहा है कि दोबारा इसका दोहराव न हो. बीजेपी राज्यसभा में उपस्थित न रहे सदस्यों से स्पष्टीकरण भी मांग सकती है. पिछले हफ्ते ही कम अटेंडेंट पर पीएम नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा सांसदों से उपस्थिति सुनिश्चित करने को कहा था. पीएम मोदी ने रिपोर्ट्स के मुताबिक बीजेपी सांसदों से कहा था कि यह उनकी (बीजेपी सांसदों की) जिम्मेदारी है न कि विपक्ष की कि बिल पास हो.

बता दें कि सोमवार को सामाजिक अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत द्वारा पेश संशोधन विधेयक पर लगभग चार घंटे तक बहस चली. इसके बाद कांग्रेस सांसद दिग्विजय सिंह, बीके हरिप्रसाद और हुसैन दलवई ने प्रस्तावित आयोग की सदस्य संख्या 3 से बढ़ाकर 5 करने, एक महिला सदस्य और एक अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्य को शामिल करने का प्रावधान विधेयक में शामिल करने के संशोधन पेश किए. पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने के लिए राज्यसभा में पेश किए गए इस 123वें संविधान संशोधन विधेयक पर विपक्ष के संशोधनों ने न सिर्फ केंद्र बल्कि समूचे सदन को ऐसी स्थिति में डाल दिया जो प्रायः सामने नहीं आती है.

वोटिंग में संशोधन प्रस्ताव के पक्ष में 75 और विरोध में 54 मत मिले. इससे सरकार के लिए असहज स्थिति बन गई. इस स्थिति में सदन में मौजूद नामचीन वकील सदस्यों, जिसमें सत्ता पक्ष और विपक्ष के सांसद थे, आपसी बातचीत से बीच का रास्ता निकालने की कोशिश की. कपिल सिब्बल, पी चिदंबरम और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बात की. सभापति पीजे कुरियन ने साफ किया कि प्रस्तावित संशोधन प्रस्ताव के साथ विधेयक को आंशिक तौर पर पारित मानते हुये इसे फिर से लोकसभा के समक्ष भेजा जाएगा. इस तकनीकी पेंच के कारण राज्यसभा से स्वीकार किए गए संशोधन प्रस्तावों को लोकसभा द्वारा मूल विधेयक में फिर से शामिल कर या नया विधेयक पारितकर फिर से इसे उच्च सदन में पारित कराने के लिए भेजा जाएगा.

भारी बारिश की संभावना को लेकर दिल्ली सरका र ने अधिकारियों को किया अलर्ट

भारी बारिश की संभावना को लेकर दिल्ली सरकार ने अपनी कमर कसनी शुरू कर दी है | अगले तीन से पांच दिनों में दिल्ली में भारी बारिश की संभावना है। इससे यमुना में जलस्तर बढ़ने की आशंका को लेकर दिल्ली सरकार के वरिष्ठ अफसरों की आपात बैठक बुलाई। जिस तरह दिल्ली एनसीआर में लगातार हो रही बारिश को लेकर दिल्ली सरकार काफी ज्यादा चिंतित है | वहीं, बाढ़ की आशंका को देखते हुए सभी विभागों के अधिकारियों को सतर्क रहने को कहा। सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग के कंट्रोल रूम को चौकस किया गया। यमुना खादर में झुग्गीवासियों व किसानों को सुरक्षित स्थानों पर भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यमुना खादर में रहने वालों को तुरंत सूचित किया जाए कि दिल्ली में भारी बारिश की संभावना है। इससे निपटने के लिए ये लोग तैयार रहें। सिविल डिफेंस सहित विभिन्न विभाग के कर्मचारियों को आपदा से बचाव के लिए तैयार रहने को कहा गया।

कपिल मिश्रा ने दिल्ली सरकार पर लगाया आरोप , 30 लाख रूपये लेकर बनाए जा रहे एल्डरमैन

दिल्ली सरकार के बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा ने एक बार फिर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर ताजा हमला किया है। दिल्ली नगर निगम (MCD) में एल्डरमैन नियुक्ति को लेकर हलचल के बीच कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया है कि दिल्ली सरकार द्वारा 30-30 लाख रुपये में तीनों नगर निगमो में एल्डरमैन बनाए जा रहे हैं। उन्होंने दिल्ली सरकार पर यह आरोप ट्वीट के जरिये लगाया है। ट्वीट में कपिल मिश्रा ने लिखा है-‘AAP के कार्यकर्ताओं में चर्चा है कि सरकार द्वारा 30-30 लाख रुपये में एल्डरमैन तीनों नगर निगमो में बनाये जा रहे हैं। क्या ये सच है?’

ओलंपिक पदक विजेताओं ने सरकार के खिलाफ जाह िर की नाराजगी

डीफ ओलंपिक 2017 में उम्दा प्रदर्शन कर विदेश से लौटे भारत के खिलाड़ियों काफी ज्यादा रोष है | दरसल मामला है की दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर डीफ ओलंपिक 2017 में उम्दा प्रदर्शन कर विदेश से लौटे भारत के खिलाड़ियों का स्वागत करने केंद्र सरकार की तरफ से कोई नहीं पहुंचा | जिसको लेकर दिल्ली के एयरपोर्ट से डीफ ओलंपिक 2017 में उम्दा प्रदर्शन कर विदेश से लौटे खिलाड़ियों ने बाहर निकलने से इन्कार कर दिया। डीफ खिलाड़ियों के साथ पदक विजेताओं का भी आरोप है कि उन्होंने विदेशी धरती पर उम्दा प्रदर्शन कर देश का मान बढ़ाया, लेकिन हमें लेने सरकार को कोई अधिकारी नहीं आया। इसको लेकर खिलाड़ियों में खासी नाराजगी है। वहीं, डीफ ओलंपिक 2017 के प्रोजेक्ट मैनेजर केतन शाह का कहना है कि इन खिलाड़ियों ने मेडल जीतकर देश का मान पढ़ाया है, लेकिन उन्हें रिसीव करने के लिए कोई नहीं आया। खिलाड़ियों के साथ गए केतन का कहना है कि कम से कम से खिलाड़ियों का स्वागत करने के लिए खेल मंत्री को तो होना ही चाहिए था।

यूपी में शादी करेंगे तो योगी सरकार देगी 20 हजार रुपए और स्मार्टफोन

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में गरीब बेटियों की शादी राज्य सरकार कराएगी. राज्य सरकार के खर्चे पर ही सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. साथ ही इस योजना के तहत दी जाने वाली राशि जो की 20 हजार है उसे कन्या के खाते में जमा करा दिया जाएगा.  इसके साथ ही एक स्मार्टफोन भी उपहार के तौर पर कन्या को दिया जाएगा. इस तरह के सामूहिक विवाह में न सिर्फ सांसद और विधायक शामिल होंगे, बल्कि समाज के अन्य प्रतिष्ठित लोगों को भी आमंत्रित किया जाएगा.

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के प्रथम चरण में 71400 लोगों को लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है. पांच से अधिक विवाह होने पर यह समारोह क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायत, नगर निगम और नगरपालिका परिषद के स्तर पर आयोजित किया जाएगा. आयोजन को सुचारू रूप से संपन्न कराने के लिए जिलाधिकारी एक विवाह कार्यक्रम समिति का गठन करेंगे.

समिति ही टेंट, विवाह संस्कार, पानी आदि की व्यवस्था कराएगी. पहले जहां इस योजना के तहत लाभार्थी को 20 हजार रुपये का अनुदान दिया जाता था, वहीं अब सरकार 35 हजार रुपये खर्च करेगी. इसमें बीस हजार कन्या के खाते में, दस हजार से कपड़े, बिछिया, पायल, सात बर्तन, एक जोड़ी कपड़े और स्मार्ट फोन खरीदा जाएगा.

अगर कोई संस्थाएं भी जोड़े को उपहार देना चाहता है तो दे सकती है. अगर कोई ऐसा करना चाहता है तो उसे पहले से इस बार सूचना देनी होगी. साथ ही उपहार देने वाले का नाम, संख्या और अनुमानित मूल्य सूची बद्ध करके सूचना पटल पर प्रदर्शित भी करना होगा.

Global #Crudeoil price of Indian Basket was US$ 50.32 per bbl on 28.07.2017

The international crude oil price of Indian Basket as computed/published today by Petroleum Planning and Analysis Cell (PPAC) under the Ministry of Petroleum and Natural Gas was US$ 50.32 per barrel (bbl) on 28.07.2017. This was higher than the price of US$ 49.73 per bbl on previous publishing day of 27.07.2017.

In rupee terms, the price of Indian Basket increased to Rs. 3227.71 per bbl on 28.07.2017 as compared to Rs. 3189.08 per bbl on 27.07.2017. Rupee closed weaker at Rs. 64.15 per US$ on 28.07.2017 as compared to Rs. 64.12 per US$ on 27.07.2017. The table below gives details in this regard:

Particulars     Unit Price on July 28, 2017 Previous trading day i.e. 27.07.2017)
Crude Oil (Indian Basket) ($/bbl)               50.32               (49.73)
(Rs/bbl)             3227.71           (3189.08)
Exchange Rate (Rs/$)               64.15               (64.12)