Author Archive: vdc

LAKHIMPUR DELHI SEMINAR

लखीमपुर संस्कृति, प्राचीन धरोहर, शिक्षा, रोजगार विकास विषयक संगोष्ठी दिल्ली में 7 जनवरी को

Bharat Ka Naya Geet

*भारत का नया गीत*

*आओ बच्चों तुम्हे दिखायें,
शैतानी शैतान की… ।*
*नेताओं से बहुत दुखी है,
जनता हिन्दुस्तान की…।।*

*बड़े-बड़े नेता शामिल हैं,
घोटालों की थाली में ।*
*सूटकेश भर के चलते हैं,
अपने यहाँ दलाली में ।।*

*देश-धर्म की नहीं है चिंता,
चिन्ता निज सन्तान की ।*
*नेताओं से बहुत दुखी है,
जनता हिन्दुस्तान की…।।*

*चोर-लुटेरे भी अब देखो,
सांसद और विधायक हैं।*
*सुरा-सुन्दरी के प्रेमी ये,
सचमुच के खलनायक हैं ।।*

*भिखमंगों में गिनती कर दी,
भारत देश महान की ।*
*नेताओं से बहुत दुखी है,
जनता हिन्दुस्तान की…।।*

*जनता के आवंटित धन को,
आधा मंत्री खाते हैं ।*
*बाकी में अफसर ठेकेदार,
मिलकर मौज उड़ाते हैं ।।*

*लूट खसोट मचा रखी है,
सरकारी अनुदान की ।*
*नेताओं से बहुत दुखी है,
जनता हिन्दुस्तान की…।।*

*थर्ड क्लास अफसर बन जाता,
फर्स्ट क्लास चपरासी है,
*होशियार बच्चों के मन में,
छायी आज उदासी है।।*

*गंवार सारे मंत्री बन गये,
मेधावी आज खलासी है।*
*आओ बच्चों तुम्हें दिखायें,
शैतानी शैतान की…।।*

*नेताओं से बहुत दुखी है,
जनता हिन्दुस्तान की…।*

Academia – industry linkage


BY JAGAT SHAH

A lot of people talk about academia – industry linkage but very few practice.

He is an An example of a practice:

At the vibrant ceramics 2016, The young brigade of volunteers who were attached as ‘buddies’ to each of the 610 foreign delegate last from 25 countries, did an amazing job of handling the delegates right from airport pick up to hotel, to venue, to their car arrangement, to lunch, to dinner, on all three days, to summit hall, to exhibition visit, to shopping, to money exchange, to sight seeing, to Morbi factory visit, to problem solving, to acting as interpreters, to communications, to the walk in the riverfront and so much more.

They became real life time buddies. All delegates wrote to me that the best part of vibrant ceramics was the way the volunteers assisted the delegates with everything. Volunteers worked tirelessly for three days from 7 am to 12 midnight, always on their toes.

We also got to know about the stats of business generated and investment intentions of foreign delegates through volunteers. They also took their video interviews of experiences on their smart phones and documented it.

Jai ho to the energy & passion of our youth. They made Gujarat & India proud. We are proud to have such committed youth in our country.

And of course team Global Network of 15 members who works on vibrant ceramics rocks always !

SARDAR JI PLAY BY ASMITA THEATRE

आज सायं 7बजे
‘सब से लंबा बौना’ नाटक।
स्थान – लोक कला मंच ,लोदी रोड, नई दिल्ली ।
आप सादर आमंत्रित है।
प्रवेश निशुल्क है।

(कल सायं 7बजे ‘सरदार जी’ नाटक,श्रीराम सेंटर,मण्डी हाउस,सायं 7बजे।स्क्रिप्ट ख्वाजा अहमद अब्बास,एंटोन चेखव,स्वदेश दीपक व शिल्पी मारवाह की कहानियो पर आधारित। टिकट ₹ 200,100 व 50 है।सह निर्देशक शिल्पी मारवाह )

कृपया सूचना को अपने अन्य दोस्तो को भी फारवर्ड करें । सहयोग के लिए आभारी रहेेंगे।

NAV DURGS NAV SWAROOPA OF WOMEN LIFE

एक प्रयास… *नवदुर्गा*- एक स्त्री के पूरे जीवनचक्र का बिम्ब है नवदुर्गा के नौ स्वरूप !

*1.* जन्म ग्रहण करती हुई कन्या *"शैलपुत्री"* स्वरूप है !

*2.* कौमार्य अवस्था तक *"ब्रह्मचारिणी"* का रूप है !

*3.* विवाह से पूर्व तक चंद्रमा के समान निर्मल होने से वह *"चंद्रघंटा"* समान है !

*4.* नए जीव को जन्म देने के लिए गर्भ धारण करने पर वह *"कूष्मांडा"* स्वरूप है !

*5.* संतान को जन्म देने के बाद वही स्त्री *"स्कन्दमाता"* हो जाती है !

*6.* संयम व साधना को धारण करने वाली स्त्री *"कात्यायनी"* रूप है !

*7.* अपने संकल्प से पति की अकाल मृत्यु को भी जीत लेने से वह *"कालरात्रि"* जैसी है !

*8.* संसार (कुटुंब ही उसके लिए संसार है) का उपकार करने से *"महागौरी"* हो जाती है !

*9.* धरती को छोड़कर स्वर्ग प्रयाण करने से पहले संसार मे अपनी संतान को सिद्धि (समस्त सुख-संपदा) का आशीर्वाद देने वाली *"सिद्धिदात्री"* हो जाती है !

FREE HEALTH CAMP BY ESCORT HEART INSTITUTE

Today 10am to 1pm

MIR Foundation (NGO) organises a Free Health Checkup Camp with Escort Heart Institute at

Venue :
VIKALP Public School, near Hari Masjid, Joga Bai Extn. Jamia Ngr

Date : 8th Oct.-16,
Saturday
Timings : 10am to 1 pm.
Free ECG (for Ladies & Gents both), Sugar Test, B.P. and Cardiologist Consultation, Echo will be at Escort Hospital if required.

You are all cordially invited to visit and take Health benefit coz. Health is Wealth.

With Best Regards

Sheikh Kafeel Ahmed – Chairman
MIR Foundation Trust

AJIT KUMAR DOVAL NATIONAL SECURITY ADVISER – MUST KNOW FACTS

असली जिंदगी का james bond। IPS पंडित अजित कुमार डोभाल जो भारत के 6 साल जासूस रहे पाकिस्तान में।
भारत के बदलते और खूंखार होते रुख के पीछे का mastermind।
इनके बारे में कुछ ख़ास बातें :
* 1945 में एक गढ़वाली ब्राह्मण परिवार में जन्म। पिता आर्मी में ब्रिगेडियर थे। दादा प्रथम विश्व युद्ध में लड़े।
* 1968 में IPS का एग्जाम टॉप किया। केरल batch के IPS officer बने।
* 17 साल की duty के बाद ही मिलने वाला medal 6 साल की duty के ही बाद मिला।
* पाकिस्तान में जासूस के तौर पर तैनाती। पाकिस्तान की आर्मी में मार्शल की पोस्ट तक पहुंचे और 6 साल भारत के लिए जासूसी करते रहे।
* 1987 में खालिस्तानी आतंकवाद के समय पाकिस्तानी agent बनकर दरबार साहिब के अंदर पहुंचे। 3 दिन आतंकवादियों के साथ रहे। आतंकवादियों की सारी information लेकर operation black thunder को सफलता पूर्वक अंजाम दिया।
* 1988 में कीर्ति चक्र मिला। देश का एक मात्र non army person जिसे यह award मिला है।
असम गए। वहां उल्फा आतंकवाद को कुचला।
1999 में plane hijacking के समय आतंकवादियों से dealing की
* RSS के करीबी होने के कारण मोदी ने सत्ता में आते ही NSA (National Security Advisor) बनाया
* बलोचिस्तान में raw फिर से active की। बलोचिस्तान का मुद्दा international बनाया।
* केरल की 45 ईसाई नर्सों का iraq में isis ने किडनैप किया। डोभाल खुद इराक गए। isis से पहली बार hostages ज़िंदा बिना बलात्कार हुए (महिला) वापिस लौटे
* राष्ट्रपति अवार्ड मिला।
* 2015 मई में भारत के पहले सर्जिकल operation को अंजाम दिया। भारत की सेना myanmar में 5 किमी तक घुसी । 50 आतंकवादी मारे।
* नागालैंड के आतंकवादियों से भारत की इतिहासिक deal करवाई। आतंकवादी संगठनों ने हथियार डाले।
* भारत की defence policy को agressive बनाया। भारत की सीमा में घुस रहा पाकिस्तानी ship बिना किसी warning के उड़ाया। कहा बिरयानी खिलाने वाला काम नही कर सकता।
* कश्मीर में सेना को खुली छूट दी। pallet gun सेना को दिलवाईं। पाकिस्तान को दुनिया के मुस्लिम देशों से ही तोड़ दिया।
* 2016 september आज़ाद भारत के इतिहास का 1971 के बाद सबसे इतिहासिक दिन। डोभाल के बुने गए surgical operation को सेना ने दिया अंजाम। PoK में 3 किलोमीटर घुसे। 40 आतंकी और 9 पाकिस्तानी फौजी मारे। दोनों surgical strikes में zero casuality
*Right Wing Hindu संगठन vivekanand youth forum की स्थापना की

THE METRO MAN – E SREEDHARAN – INDIAN ENGINEER OF 21sr CENTURY

A legend hangs up his boots On the last day of this month . Finally, Elattuvalapil Sreedharan has been allowed to retire, at the age of 79. A man who built the Calcutta Metro, Konkan Railway and the Delhi Metro. But he is best remembered for re-building in just 46 days the Pamban bridge which in 1963 was blown away by a cyclone into the sea.

Here is a man who is honest to the core, brooked no nonsense and set an example for others. A true leader who walked his talk. He truly deserves the Bharat Ratna. Now he is going to Kerala to fulfill the dreams of Mallus "The Kochin Metro "

India has much gratitude for this great engineer. He is known as the The "metro man of India". He is quite a sensational project manager, who almost always gets the project completed on time or before schedule. He fought all the delays caused by bureaucratic red tape, corruption and lack of funds.
Sreedharan’s willpower has moved mountains. He is not just a dreamer but also a builder, but most of all, one who has dedicated his achievements to every Indian. He stands out as a legend in Indian Engineering history. His major projects being the Delhi Metro and the Konkan Railways.

This 75+ year-old Managing Director of the Delhi Metro Rail Corporation only desires the progress of his country. He wanted Delhi to have a world-class metro rail project to change the meaning of urban transport in India. And he did it.

The Konkan Railway project came to him in his retirement. It was a challenging task—-760 km of rail tracks from Mumbai to Kochi through the rugged hills of the Western Ghats. This project was found as not feasible, by the British engineers in pre-independence era. But for Sreedharan nothing was impossible.

Environmentalists protested, politicians said it cannot be done and the project ran short of money.
Sreedharan raised public bonds to finance it, taking everyone ahead.

Kiran Bedi explains why Sreedharan is worthy of the title: “He is not in his 40s or 50s, but he is in his 70s, a time when we normally retire. Sreedharan has given the best metro concept for the railway of the country with integrity, vision, with commitment and with remarkable professional skills. There is no other person better than him in this category.”

Sreedharan insists he does not have any special skills to get the best out of people. "I always found that people cooperate if you work for a good cause," he says.

Sreedharan studied in an ordinary school & college and later on took his civil engineering degree from a govt engineering college. But he went on to become the boss for hundreds of IIM, IIT graduates!

People still wonder what really makes him tick at 80 while a young man in his 20’s struggles to begin his day at 6 or 7 in the morning. Sreedharan’s day starts at 4 am, meditation and Bhagwad Gita.

He reaches office at 9:30 am and gets straight to work. In the evening, he usually takes a long walk with his wife Radha and allots time to his family of four children. He used to set up reverse clocks to show impending deadlines to his project members during Delhi Metro construction phase.
The message of the Gita: To act, without desire for the fruits of the action gave him the courage to act.

A plate placed in his Kerala office read as: ‘Whatever to be done, I do. But in reality I do not do anything’.

India says thank you sir.
Government of India may or may not award him the Bharat Ratna. But for the countless millions that have travelled on the Pamban bridge, Kolkata Metro, Konkan Railways & Delhi Metro and for the knowledgeable public he is already a Bharat Ratna – a real gem of the rarest variety.

Let’s all recommend his name to Govt for award of Bharat Ratna. Please share this message. Each one to at least one.

ASHOKA THE GREAT – MUST KNOW FACTS

चीन के जिजीयांग स्टेट में अशोक स्तम्भ आज भी मौजूद है ! चीन के लोगों को चक्रवर्ती अशोक की महानता और वीरता की कथाएं पता है । भारत के?
👉कपने सोचा कि जिस सम्राट के नाम के साथ संसार भर के इतिहासकार “महान” शब्द लगाते हैं……
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥 👉जिस सम्राट का राज चिन्ह अशोक चक्र भारत देश अपने झंडे में लगाता है…..
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉 जिस सम्राट का राज चिन्ह चारमुखी शेर को भारत देश राष्ट्रीय प्रतीक मानकर सरकार चलाती है…
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉जिस देश में सेना का सबसे बड़ा युद्ध सम्मान सम्राट अशोक के नाम पर अशोक चक्र दिया जाता है…
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉जिस सम्राट से पहले या बाद में कभी कोई ऐसा राजा या सम्राट नहीं हुआ, जिसने अखंड भारत (आज का नेपाल, बांग्लादेश, पूरा भारत, पाकिस्तान और अफगानिस्तान) जितने बड़े भूभाग पर एक छत्रीय राज किया हो….
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉जिस सम्राट के शासन काल को विश्व के बुद्धिजीवी और इतिहासकार भारतीय इतिहास का सबसे स्वर्णिम काल मानते हैं….
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉जिस सम्राट के शासन काल में भारत विश्व गुरु था, सोने की चिड़िया था, जनता खुशहाल और भेदभाव रहित थी…..
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉जिस सम्राट के शासन काल में जी टी रोड जैसे कई हाईवे बने, पूरे सड़क पर पेड़ लगाये गए, सराये बनायीं गईं। इंसान तो इंसान जानवरों के लिए भी प्रथम बार अस्पताल खोले गए, जानवरों को मारना बंद कर दिया गया…..
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉 ऐसे महान सम्राट अशोक कि जयंती उनके अपने ही देश भारत में क्यों नहीं मनायी जाती, न ही कोई छुट्टी घोषित कि गई है?? ~~~~~
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉अफ़सोस जिन लोगों को ये जयंती मनानी चाहिए, वो लोग अपना इतिहास ही नहीं जानते और जो जानते हैं वो मानना नहीं चाहते ।
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉जो जीता वही चंद्रगुप्त ना होकर, जो जीता वही सिकन्दर “कैसे” हो गया??? जबकि सिकंदर की सेना ने चन्द्रगुप्त मौर्य के प्रभाव को देखते हुये लड़ने से मना कर दिया था और उसका मनोबल टूट गया, जिस के कारण सिकंदर ने मित्रता के तौर पर अपने सेनापति सेल्युकश कि बेटी की शादी चन्द्रगुप्त से की थी। ~~~~~
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉महाराणा प्रताप महान ना होकर अकबर महान कैसे हो गया???जबकि, अकबर अपने हरम में हजारों लड़कियों को रखैल के तौर पर रखता था। यहाँ तक कि उसने अपनी बेटियो और बहनो की शादी तक पर प्रतिबँध लगा दिया था। और इधर हम उस महान योद्धा महाराणा प्रताप को भूल गए जिसने अकेले दम पर उस अकबर की लाखों की सेना को घुटनों पर ला दिया था।
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉सवाई जय सिंह को महान वास्तुप्रिय राजा ना कहकर शाहजहाँ को यह उपाधि किस आधार मिली??? जबकि साक्ष्य बताते हैं कि जयपुर के हवा महल और कई किले महाराजा जय सिंह ने बनवाया था और मुगलो ने यहाँ के मंदिरो और महलो पर जबरन कब्ज़ा कर के उनको अपनी कृति घोषित किया था। ~~~~~
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉जो स्थान गुरु गोबिंद सिंह जी को मिलना चाहिये वो क्रूर और आतंकी औरंगजेब को क्यों और कैसे मिल गया ???? ~~~~~
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉स्वामी विवेकानंद और आचार्य चाणक्य को भूल गए और हिंदुत्व विरोधी गांधी महात्मा बनकर हिंदुस्तान के राष्ट्रपिता कैसे हो गये ????? ~
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉 तेजोमहालय हो गया ताजमहल, लालकोट हुआ लाल किला, फतेहपुर सीकरी का देव महल- बुलन्द दरवाजा एवं सुप्रसिद्ध गणितज्ञ वराह मिहिर की मिहिरावली(महरौली) स्थित वेधशाला हो गयी कुतुबमीनार, क्यों और कैसे हो गया???? ~~~~~
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉यहाँ तक कि राष्ट्रीय गान भी संस्कृत के "वन्दे मातरम" की जगह गुलामी का प्रतीक ”जन-गण-मन" ..कैसे और क्यों हो गया ????
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉और तो और…. हमारे आराध्य भगवान् राम और कृष्ण इतिहास से कहाँ और कब गायब हो गये, पता ही नहीं चला, आखिर कैसे ????
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉 यहाँ तक कि हमारे आराध्य भगवान राम और कृष्ण की जन्मभूमि भी कब और कैसे विवादित बन गयी, हमें पता हीं नही चला!
🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉हमारे दुश्मन सिर्फ बाबर , गजनवी , तैमूरलंग ही नहीं हैं,बल्कि आज के सफेदपोश सेक्यूलर भी हमारे उतने ही बड़े दुश्मन हैं, जिन्होंने हीन भावना का उदय कर दिया। ~~~~~
🚥त🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥🚥
👉🏾अपन सच्चे इतिहास को जानने और पहचाने के लिए अतिशय धन्यवाद।
🙏जय नारायण जी की सरकार 🚩