Author Archive: vdc

MCD ELECTIONS – MUSLIM ORGANISATIONS TO FIELD CANDIDATES

11 फ़रवरी, 2017
इरफ़ानूल्लाह ख़ान साहब ने आज दरियागंज में एक प्रेस वार्ता करी। पत्रकारों से मुख़ातिब होते हुए उन्होंने बताया की कल उनकी सदरे मजलिस जनाब बैरिस्टरअसदुद्दीन ओवैसि साहब के साथ मुलाक़ात हुई, जिसमें दिल्ली नगर निगम चुनाव को लेकर तबादले ख़याल हुआ। इरफ़ानूल्लाह ख़ान साहब ने ये बताया की आने वाले निगम चुनाव में मजलिस पूरी शिद्दत और मज़बूती के साथ मैदान में उतरेगी और मजलिस के रज़ाकारो को मुत्ताहिद होकर कमर कसने का वक़्त अब आ गया है। इस मौक़े पर उन्हने कई महत्वपूर्ण घोषणाएँ करी जो इस प्रकार है:

1.उम्मीदवार नामांकन प्रक्रिया: उम्मीदवार नामांकन के लिए फ़ॉर्म मुहैया कराए जाएँगे, जो भी नामांकन भरने में इक्षुक़ है उसे फ़ॉर्म के साथ 2500 फ़ीस (नॉन रेफ़ंडेबल)जमा करनी होगी। फ़ॉर्म कबसे और कहाँ से प्राप्त किया जा सकता है इसकी सूची जल्द जारी होगी।

2. स्वतंत्र अब्ज़र्वर टीम (प्रत्येक लोकसभा सीट): हर लोकसभा सीट पर स्वतंत्र अब्ज़र्वर नियुक्त किए गए हैं, जो नामांकन करने वालों के कार्यों पर अपनी रिपोर्ट सौंपेगे, अब्ज़र्वर्ज़ की सूची इस प्रकार है :
1)- तौसीफ़ अहमद : उत्तरपूर्वि लोकसभा
2)- एम॰ इस्लाम : चाँदनी चौक लोकसभा
3)- जमाल अख़्तर: दक्षिण दिल्ली लोकसभा
4)- आबिद कलीम : उत्तर दक्षिण लोकसभा
5)- सैयदुल्लाह ख़ान : दक्षिणपूर्वि लोकसभा
6)- अफ़ज़ल ख़ान अफ़रीदी : पश्चिमी दिल्ली लोकसभा
7)- रेहान सिड्डीकी: नई दिल्ली लोकसभा

3. अनुशासन कमेटी : आज अनुशासन कमेटी की भी घोषणा की गयी, जो इस प्रकार है :
1)- अडवोकेट शाहिद आज़ाद (संयोजक)
2)- हाजी अब्दुल हन्नान (सदस्य)
3)- अडवोकेट अक़ील हुसैन(सदस्य)

4. ऑर्गनायज़िंग सचिव: दिल्ली प्रदेश कार्यों को व्यवस्थित ऐवम सुचारू रूप से चलाने के लिए सैयद शारिक हुसैन साहब को ऑर्गनायज़िंग सचिव नियुक्त किया गया।

5. विभिन्न लोकसभा सीट के प्रभारी: साथ ही साथ काम में तेज़ी लाने के लिए विभिन्न लोकसभा सीट के लिए प्रभारियो की घोषणा हुई, जो इस प्रकार है:
1)- आदिल आज़मी : प्रभारी दक्षिण दिल्ली लोकसभा
2)- अफ़ज़ल अंसारी : सह प्रभारी दक्षिण दिल्ली लोकसभा
3)- सैयद यूसुफ़ अली : प्रभारी उत्तर पूर्वी लोकसभा
4)- इमदादुल्लाह जौहर : प्रभारी उत्तर पूर्वी लोकसभा
5)- शाह आलम (जाफ़राबाद) : सह प्रभारी चाँदनी चौक लोकसभा
6)- रियाज़ अहमद सैफी : सह प्रभारी चाँदनी चौक लोकसभा
7)- आस मोहम्मद क़ुरैशी: सह प्रभारी चाँदनी चौक लोकसभा

#BJP to give more tickets to OBC candidates in Delhi civic polls

BJP will field more than 10 per cent OBC candidates in the upcoming MCD elections in view of the increase in number of seats in outer and semi urban parts of Delhi. After considering the effect of delimitation, the party has taken the decision to field more than 10 per cent candidates from other backward class candidates in the outer and rural pockets of Delhi where the number of seats have increased, said a senior office bearer of the party. He noted that a sizeable number of Purvanchal people live there the party’s new city president Manoj Tiwari has been focusing on these areas. An internal survey of the party has revealed improved condition of BJP in 13 Assembly segments where nearly 50-60 wards are at stake in outlying areas of Delhi.

Election Commission pitches for inclusion of ‘electoral literacy’ in schools

The Election Commission wants students to learn from the secondary school level how to become responsible voters. In a bid to educate 15 to 17-year-old ‘future voters’, who would enrol as voters when they turn 18, the Election Commission has asked the Union HRD Ministry to introduce ‘electoral literacy’ in the curriculum at the secondary school level. And till the time the subject becomes part of the curriculum, the Commission has asked the HRD Ministry to ask the NCERT to bring out a booklet on elections and electoral process "that may be included in the list of supplementary reading material for schools at appropriate level".

LG office raked up issue of illegal appointments in DCW, Swati Maliwal tells HC

The Lieutenant Governor’s office had "raked up" the issue of irregular appointments in Delhi’s women’s panel to sidetrack the payment of salaries to people hired to work on various women’s helplines, DCW chief Swati Maliwal has alleged in the Delhi High Court. The Delhi Commission for Women (DCW) Chairperson has contended that people were engaged on short-term contracts for three months to ensure that its various helplines, programmes and cells for women in distress continue to function till the Delhi government sanctions staff for the purpose. The DCW made the submission in a counter affidavit supporting the plea of 97 workers employed by it, who have moved the high court seeking payment of salaries from September 2016 onwards.